ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी बने जिला अधिवक्ता संघ के संयुक्त सचिव

जबलपुर। जिला अधिवक्ता संघ चुनाव की मतगणना के दूसरे दिन सह-सचिव पद पर ज्ञानप्रकाश त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष पद पर गोपाल पटेल और पुस्तकालय सचिव के पद पर अमित साहू निर्वाचित हुए हैं। पहले दिन मंगलवार को हुई मतगणना में अध्यक्ष पद पर सुधीर नायक, उपाध्यक्ष पद पर एचआर नायडू और मंजू सिंह, सचिव पद पर राजेश तिवारी निर्वाचित घोषित किए गए थे।

नवनिर्वाचित पदाधिकारियों का सम्मान
हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने बुधवार दोपहर सिल्वर जुबली हॉल में जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सुधीर नायक, उपाध्यक्ष एचआर नायडू और मंजू सिंह, सचिव राजेश तिवारी और सह-सचिव ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी का शॉल-श्रीफल से सम्मान किया। इस मौके पर हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष आदर्शमुनि त्रिवेदी, सह-सचिव अमित जैन, कोषाध्यक्ष अनिता कैथवास सहित बड़ी संख्या में अधिवक्ता मौजूद थे।

छात्र जीवन से ही समाजसेवा और राजनीति में सक्रिय है ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी

जिला अधिवक्ता संघ के सह सचिव ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने समाजसेवा और राजनीति की शुरुआत “छात्र संघर्ष समिति” से 1999 में जबलपुर के खालसा कॉलेज से की। मध्यप्रदेश में वर्षो से बंद हुए छात्र संघ चुनाव को शुरू करने के लिए जबलपुर में किये गए आंदोलन में श्री त्रिपाठी के नेतृत्व में नई गति मिली।

छात्र हित में लगातार संघर्षशील रहे ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने छात्र संघर्ष समिति के सक्रिय नेता डॉ. अजय मिश्रा के साथ मिलकर रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने के लिए निरंतर हस्ताक्षर अभियान और आंदोलन करते रहे। इनके लगातार आंदोलन के कारण जबलपुर विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने के लिए तत्कालीन विधायक निशीथ भाई पटेल ने विधानसभा में अशासकीय संकल्प पारित कराया था, जिसका प्रस्ताव आज भी केंद्र सरकार के पास विचाराधीन है।

 

ये भी पढ़ें :