AFSPA में संसोधन की बात करना, सेना का मनोबल तोड़ने जैसा : सुमित्रा महाजन

इंदौर में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को लेकर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि सेना के सर्चिंग अधिकार को वापस लेने से भारतीय सेना का मनोबल गिरेगा. ताई ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में जम्मू-कश्मीर और मणिपुर जैसे संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा बलों के विशेष शक्ति अधिनियम 1958 को वापस लेने की बात कही है, जबकि इन्हीं के प्रधानमंत्री ने कहा था कि सेना के विशेषाधिकार को वापस नहीं ले सकते हैं. लेकिन कांग्रेस अब इस एक्ट को हटाने की बात कर रही है. ताई ने नसीहत देते हुए कहा कि कांग्रेस को देश की परिस्थिति समझना चाहिए.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में 22 लाख नौकरियां देने की बात कर रही है. जबकि इन्हीं के वित्त मंत्री ने लोकसभा में दस फीसदी नौकरियों की कटौती बात कही थी. कांग्रेस बताए कि अब कहां से नौकरियां देगी.

सुमित्रा महाजन ने मनरेगा में 150 दिन काम देने की बात पर निशाना साधते हुए कहा कि मजदूरों को कमलनाथ सरकार 100 दिन का काम नहीं दे पा रही है और कांग्रेस 150 दिन के रोजगार की बात कर रही है. कांग्रेस न तो आत्म परीक्षण कर रही है ना ही अपनी पिछली बातों को याद कर रही है.