मोदी का अमेरिकी उद्योगपतियों से निवेश का आह्वान, कहा- सुनहरे अवसर का लाभ उठाएं

Spread the love

न्यूयॉर्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को दुनिया के बड़े औद्योगिक घरानों को भारत में निवेश के लिये आमंत्रित करते हुए कहा कि कंपनी कर की दरों में भारी कटौती से उनके लिए निवेश का यह सुनहरा अवसर है। उन्होंने देश में कारोबारी माहौल को सुधारने के लिए और उपाय करने का भी वादा किया।

ग्लोबल बिजनेस फोरम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश लगातार अर्थव्यवस्था के पायदान पर आगे बढ़ रहा है। ब्लूमबर्ग की तरफ से न्यूयॉर्क में आयोजित इस फोरम में पीएम ने कहा कि हमारी सरकार कड़े फैसले लेने में पीछे नहीं है। हम लगातार गरीबी को हटा रहे हैं। 

इन सेक्टर्स में निवेश करने के लिए दिया न्यौता

पीएम मोदी ने फोरम में आए निवेशकों को भारत आने का निमंत्रण देते हुए कहा कि वो कई सेक्टर्स में यहां आकर के निवेश कर सकते हैं। यह सेक्टर्स हैं स्टार्टअप, मेट्रो, सड़क, रेल, एयरपोर्ट। इनमें भारी संभावनाएं हैं और अगर आप निवेश करना चाहते हैं तो भारत में आएं। उन्होंने प्रमुख कंपनियों के दिग्गजों से कहा, यदि आप दुनिया के बड़े बाजारों में निवेश करना चाहते हैं … यदि आप स्टार्टअप में निवेश करना चाहते हैं … यदि आप दुनिया के सबसे बड़े बुनियादी ढांचा तंत्रों में से एक में निवेश करना चाहते हैं तो भारत का रुख कीजिए।

50 अरब की अर्थव्यवस्था बनाने पर जोर

पीएम मोदी ने कहा कि देश को 50 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था पर सरकार का सबसे ज्यादा जोर है। 2014 में अर्थव्यवस्था दो ट्रिलियन डॉलर थी, जिसमें बीते पांच वर्षों में हमने इसमें एक ट्रिलियन डॉलर जोड़ दिए। इस बड़े टारगेट को अचीव करने के लिए हमारे पास क्षमता है, साहस है और परिस्थितियां भी हमारे साथ हैं। 2014 से लगातार पूर्ण बहुमत की सरकार आई है, जिसके कारण हम इसको जल्द काम कर रहे हैं। भारत की ग्रोथ के चार अहम फैक्टर हैं- डेमोक्रेसी, डेमोग्राफी, डिमांड और डिसाइसिवनेस। इन हालात में निवेश की सुरक्षा और उसके विकास का भरोसा अपने आप मिलता है।

भारत तीसरा सबसे बड़ा विमानन बाजार

पीएम मोदी ने कहा कि भारत फिलहाल विश्व में तीसरा सबसे बड़ा विमानन बाजार बन गया है। हवाई यात्रियों की संख्या में इजाफा होने के कारण ऐसा हो रहा है। इससे कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा भी बढ़ गई है। वहीं कई कंपनियां अपने विमानों के बेड़े को बढ़ा रही हैं, जिससे इस क्षेत्र में भी निवेश के नए रास्ते खुल रहे हैं। हमने अपने रक्षा क्षेत्र को खोला है, ऐसा पहले कभी नहीं किया है। आने वाले वर्षों में 100 लाख करोड़ रुपये आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर पर खर्च करने जा रहे हैं।

बैंकिंग, दिवालिया कानून बड़ी उपलब्धि

पीएम ने कहा है कि बैंकिंग क्षेत्र में सुधार और दिवालिया कानून को लेकर के आना हमारी पिछले पांच सालों की सबसे बड़ी उपलब्धि रही है। पिछले पांच सालों में 28600 करोड़ डॉलर का एफडीआई आया जो कि 20 साल में हुए विदेशी निवेश का 50 फीसदी है। 90 फीसदी विदेशी निवेश ऑटोमैटिक रूट से हुआ है। निवेशकों का भरोसा बढ़ा है और वह भारत में आ रहा है। 37 करोड़ लोगों को बैकिंग से पहली बार जोड़ा गया। भारत के करीब-करीब हर नागरिक के पास यूनिक आईडी और मोबाइल फोन व बैंक अकाउंट है। इससे टारगेटेड डिलिवरी में तेजी आई, लीकेज बंद हुआ और पारदर्शिता बढ़ी है। 

सोशल मीडिया के फायदे

सोशल मीडिया से सरकार को कई फायदे हैं। हालांकि इसका प्रयोग गलत भी हो रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि कुछ मीडिया हाउस ने फेक न्यूज को उजागर करने का काम शुरू किया है। इससे स्थिति सुधरेगी। फॉरवर्ड करने का फैशन है, इसे लेकर कोई सॉल्यूशन लाना होगा। मैं खुद सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव हूं और मुझे इसके फायदे मिले हैं।

सोशल मीडिया और डिजिटल इंडिया से अब लोगों को काफी सुविधाएं मिल रही हैं। पहले बिजली कनेक्शन लेने के लिए उद्योगों को कई साल लग जाते थे, अब कुछ दिनों के भीतर कनेक्शन मिलने लगा है। कंपनी रजिस्ट्रेशन के लिए कई हफ्ते लगते थे और अब कुछ ही हफ्तों में ये काम होता है।

पर्यावरण को लेकर हो रहे हैं यह कार्य

पर्यावरण को सुधारने के लिए सरकार कई तरह के कार्य कर रही है। ग्लोबल वॉर्मिंग में कमी लाने के लिए सरकार उर्जा के वैकल्पिक स्त्रोतों पर अपना ध्यान दे रही है। हमने 120 गीगावाट रिन्युएबल एनर्जी का काम पूरा कर लिया है। 450 गीगावाट का लक्ष्य अब तय किया है। इसे करने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं। सिंगल यूज प्लास्टिक को प्रतिबंधित किया है और इसके लिए अभियान चलाया जाएगा। इसके साथ ही सरकार ने जल-जीवन नाम से मिशन को शुरू किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *