पीएम मोदी ने वाराणसी पहुंचकर कहा – जनादेश ने सियासी पंडितों के समीकरणों को झूठा साबित कर दिया

लोकसभा चुनाव 2019 में शानदार जीत के बाद अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को बीजेपी की शानदार जीत में सहयोग करने के लिए धन्यवाद दिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि बीजेपी को सिर्फ हिंदीभाषी क्षेत्रों की पार्टी कहा जाता था. इस बार नतीजों ने इस धारणा को गलत साबित कर दिया है. इस बार पार्टी ने पूरे देश में जीत का स्वाद चखा है. लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों ने साबित किया कि मतदाताओं के साथ पार्टी की कैमिस्ट्री ने सभी समीकरणों को झुठला दिया.

पीएम ने कहा, ‘राजनीति के पंडितों को यह नहीं पता है कि उनकी सोच और तर्क 20वीं सदी के हो चुके हैं. नतीजों ने साफ कर दिया है कि कैमिस्ट्री समीकरणों पर भारी पड़ गई है. देश में समाज शक्ति, आदर्शों और संकल्प की कैमिस्ट्री ने राजनीति के पंडितों के सभी समीकरणों को पराजित कर दिया है. इस चुनाव में अंकगणित को कैमिस्ट्री ने शिकस्त दी है.’
इस दौरान पीएम ने सभी लोगों को कड़ी मेहनत और पार्टी के प्रति समर्पण के लिए धन्यवाद दिया. नरेंद्र मोदी 30 मई की शाम 7 बजे दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. उन्होंने कहा कि लेाकसभा चुनाव 2014, यूपी विधानसभा चुनाव 2017 और लोकसभा चुनाव 2019 में जीत की हैट्रिक सिर्फ बीजेपी की उपलब्धि नहीं है. ये हैट्रिक छोटी भी नहीं है. ये आप सभी की जीत है.

देश के लिए पीएम, वाराणसी के लिए आपका सांसद हूं 

मोदी ने कहा कि देश के लिए मैं प्रधानमंत्री हूं, लेकिन वाराणसी के लोगों के लिए मैं आपका सांसद हूं. उन्होंने आश्चर्य जताया कि आज भी राजनीति के पंडित बीजेपी को सिर्फ हिंदीभाषी क्षेत्रों की पार्टी मानते हैं. ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है, जहां बीजेपी ने जीत दर्ज नहीं की है. ऐसा कोई क्षेत्र नहीं, जहां बीजेपी का मत-प्रतिशत बढ़ा न हो. असम में बीजेपी की सरकार है. यहां तक कि लद्दाख में भी हमारे प्रत्याशी जीत रहे हैं. फिर भी लोग बीजेपी को हिंदीभाषी क्षेत्रों की पार्टी बता रहे हैं. बीजेपी को लेकर बनाई यह धारणा पूरी तरह गलत है.

डिस्टिंक्शन के साथ परीक्षा में पास हुए पार्टी कार्यकर्ता 

प्रधानमंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं का भीषण गर्मी में मतदाताओं तक पहुंचने और प्रचार अभियान को बिना किसी रुकावट के जारी रखने के लिए धन्यवाद दिया. मोदी ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता डिस्टिंक्शन के साथ परीक्षा में पास हो गए हैं. उन्होंने स्वीकार किया कि राजनीति नजरिये पर चलती है. मनगढ़ंत झूठ और गलत तर्कों के जरिये लोगों के मन में बीजेपी के बारे में गलत नजरिया बनाया गया है. इस झूठे और गलत नजरिये को मानने वाले लोग हमारे साथ खड़ा होना पसंद नहीं करते हैं. लेकिन, खराब और गलत नजरिया बनाने वाले लोगों को पारदर्शिता व कठोर परिश्रम के जरिये हराया जा सकता है.

सरकार और संगठन के बीच बेहतर समन्वय पर दिया जोर

सरकार और संगठन के बीच समन्वय पर जोर देते हुए पीएम ने कहा कि दोनों के बीच शानदार तालमेल रहा. सरकार ने नीति बनाई और संगठन ने रणनीति. सरकार नीति और रणनीति के बीच तालमेल का आईना है. इससे संगठन और देश को फायदा मिल रहा है. उन्होंने बीजेपी की जीत का श्रेय जमीन पर काम करने वाले कार्यकर्ताओं को देते हुए कहा कि कार्य और कार्यकर्ताओं ने अजूबा कर दिखाया. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं ने सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों के बारे में लोगों को जागरूक किया. आम लोगों को हर कार्यक्रम की पूरी जानकारी दी.

कुछ लोग सिलेक्टिव संवेदनशीलता दिखाते हैं

पीएम ने इस दौरान बीजेपी के सामने खड़े राजनीतिक अस्पृश्यता के खतरे की चर्चा भी की. उन्होंने कहा कि केरल या कश्मीर, बंगाल या त्रिपुरा के मामले मीडिया में नहीं आएंगे. कुछ लोग सिलेक्टिव संवेदनशीलता दिखाते हैं. राजनीतिक विचारधारा के लिए सैकड़ों कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई. त्रिपुरा में कार्यकर्ताओं को फांसी पर लटका दिया गया. बंगाल में अब भी हिंसा और हत्याओं का सिलसिला जारी है. दुर्भाग्य से इस समय सिर्फ एक ही पार्टी के कार्यकर्ताओं को ऐसे हालात का सामना करना पड़ा है. हमारे सामने आज यही सबसे बड़ा खतरा है.

नफरत के बाद भी ‘सबका साथ, सबका विकास’ पर वलेगी बीजेपी

मोदी ने कहा कि डॉ. भीमराव आंबेडकर और महात्मा गांधी ने अस्पृश्यता को खत्म कर दिया था, लेकिन दुर्भाग्य से राजनीतिक अस्पृश्यता बढ़ती जा रही है. बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है. उनका इशारा अमेठी में चुनाव के बाद हुई बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या की ओर था. इस नफरत के बावजूद बीजेपी ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर चलती रहेगी. बाकी पार्टियों की तरह बीजेपी वोट बैंक की राजनीति के दबाव में नहीं आई. इस वोट बैंक की सियासत ने लोकतंत्र को बर्बाद कर दिया है. इस दौरान उन्होंने लोकतंत्र में विपक्ष की भूमिका और अहमियत पर जोर देते हुए अपने खिलाफ खड़े हुए प्रत्याशियों का भी धन्यवाद किया.