राहुल का भोपाल दौरा / किसानों से पूछ कर बनवाएंगे घोषणा पत्र, नाम फिर होगा ‘वचन पत्र’

भोपाल। आगामी आठ फरवरी को लोकसभा चुनाव का शंखनाद करने भोपाल आ रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस बार चुनाव से पहले नया प्रयोग करने जा रहे हैं। भोपाल में राहुल गांधी चुनिंदा किसानों से बातचीत करेंगे। इसके बाद जो निष्र्कर्ष निकलेगा उसे अपने घोषणा पत्र में शामिल करने का वचन देंगे। बताया जा रहा है कि विधानसभा चुनाव में मध्य प्रदेश की तर्ज पर लोकसभा चुनाव के घोषणापत्र का नाम भी वचन पत्र हो सकता है।

प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने में किसानों का अहम रोल माना जा रहा है। इसलिए भोपाल के जंबूरी मैदान में कांग्रेस द्वारा किसान आभार सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में प्रदेशभर से 2 लाख किसानों को लाने का टारगेट रखा गया है। किसानों को  भोपाल तक लाने, वापस छोड़ने के साथ ही भोजन-पानी और अन्य सुविधाएं इस बार कांग्रेस भाजपा की तर्ज पर कर रही है।

कर सकते हैं बड़ी घोषणा: कांग्रेस सूत्रों के अनुसार किसान सम्मेलन में राहुल गांधी विधानसभा चुनाव से पहले मंदसौर में किसानों की कर्जमाफी की घोषणा जैसी बड़ी घोषणा कर सकते हैं। हालांकि पिछले सप्ताह 28 जनवरी को छत्तीसगढ़ के दौरे पर आए राहुल गांधी इसकी शुरुआत कर चुके हैं। वे अपने  संबोधन में 2019 में केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर गरीबों के लिए न्यूनतम आमदनी का वादा कर सकते हैं। कहा जा रहा है कि एक फरवरी को मोदी सरकार द्वारा पेश किए गए अंतरिम बजट के बाद राहुल द्वारा की जाने वाली घोषणा में भी बदलाव हो सकता है।