मध्यप्रदेश सरकार ने बनायी राम पथ निर्माण की कार्य योजना

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार ने प्रदेश में रामपथ गमन और इसमें पड़ने वाले अंचलों के विकास की कार्य योजना बनाई है। प्रदेश के अध्यात्म एवं जनसंपर्क विभाग के मंत्री पीसी शर्मा ने मंगलवार को यहां संवाददाताओं को बताया, ‘‘राम पथ गमन के प्रस्तावित मार्ग में सतना, पन्ना, कटनी, उमरिया, शहडोल और अनुपपुर जिले आते हैं। रामपथ गमन के तीर्थस्थलों के जीणोद्धार, संरक्षण, विकास एवं जन सुविधायें, भीड़ प्रबंधन, सुरक्षा व्यवस्था, मेले, उत्सव और अध्यात्मिक कार्यक्रम प्रस्तावित हैं।

’’उन्होंने कहा कि रामपथ गमन फोरलेन बनाई जाना प्रस्तावित है जिससे क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिल सकेगा। इस पथ के बीच में पड़ने वाले समस्त नदी, झरने एवं जल स्त्रोत को प्रदूषण मुक्त करना तथा छायादार वृक्षों के रोपण संबंधी कार्ययोजना तैयार की जायेगी।

शर्मा ने बताया कि इसके अलावा प्रदेश सरकार ने शासन संधारित मंदिरों के पुजारियों को प्रदाय किये जाने वाले मानदेय की दरों में तीन गुना की वृद्धि करते हुए नवीन दरों को दिनांक एक जनवरी 2019 से लागू किया गया है। उन्होंने बताया कि नलखेड़ा और ओरछा में तीर्थयात्रियों की सुविधा हेतु तीर्थ यात्री सेवा सदन के निर्माण हेतु क्रमश: 84.70 लाख रुपये और 95.86 लाख रुपये जारी कर भूमि पूजन किया गया है तथा ओंकारेश्वर परिक्रमा पथ के विकास की कार्ययोजना भी बनाई जा रही है।