Mahapanchayat In Baghpat: महापंचायत में किसानों का उमड़ा सैलाब, सोमेंद्र ढाका बोले- लिया जाएगा आंसुओं का हिसाब

बागपत। मुजफ्फरनगर के बाद बागपत में किसानों की महापंचायत आज बुलाई गई है। इसके मद्देनजर भारी संख्‍या में किसान कई शहरों से पहुंच रहे है। वे अपने साथ ट्रैक्‍टर-ट्रॉली और डीजे लेकर जा रहे हैं। वहीं किसानों के नेता पंचायत स्‍थल पर पहुंच चुके हैं। बताया जा रहा है कि किसानों उमड़े सैलाब के बीच पंचायत शुरू कर दी गई है। 

भाकियू के राजेंद्र चौधरी ने कहा कि आंदोलन को मजबूती कर साथ लड़ना है। बड़ौत में चल रहे धरना को बलपूवर्क हटाने व राकेश टिकैत के आंसुओं का हिसाब लेने का ऐलान कर रहे वक्ता। आप पार्टी के सोमेंद्र ढाका ने कहा कि वह धरने पर किसानो पर लाठीचार्ज की निंदा करता हैं तीनों कानून प्रधानमंत्री ने पूंजीपतियों के हित में बनाए हैं। क्षेत्रीय सांसद के स्थान पर यदि जयंत चौधरी संसद में पहुंचते तो कानून पास नहीं होते। वक्‍ता बोले राकेश टिकैत हनुमान बनकर संजीवनी देने का काम किया। सबकुछ किसानों पर न्‍यौछावर कर दिया। बागपत में उठाया गया दुसरे नंबर का धरना था। अब गाजीपुर धरना उठाने की कोशिश की जा रही है। हम इसे बंद नहीं होने देंगे।

महिला वक्‍ता ने कहा कि क्‍या हम यहां नेता बनने नहीं आए हैं क्‍या आपका खून नहीं खौलता। अब सरकार की तानाशाही नहीं चलने देंगे। चौधरी चरण सिंह कहते थे अपमान और एहसान न भूलो। भाजपा ने एहसान नहीं किया बल्कि अपमान किया। बागपत और गाजीपुर में जो हुआ वह चौधरी चरण सिंह की विरासत पर हमला है। चौधरी हरिपाल सिंह ने कहा कि इतीन भीड़ देखकर मुझे खुशी हो रही है। बागपत में जो हुआ जलीयावाला बाग से कम नहीं हुआ। नीलू ने कहा कि भाजपा ने गुडां नीति अपनाई है।  

विजेंद्र सिंह ने कहा कि अगर किसानों का साथ दे रही तो वह किसानों के बीच क्‍यों नहीं जाते। संजीव बालियान क्‍यों साथ दे रहे हैं ये सभी नेता रिश्‍तेदारी बना रहे हैं। अगर ये लोग नहीं माने तो इनका बहिष्‍कार किया जाएगा। किसान की जाति अलग नहीं एक ही है। केवल वह किसान है। किसान को खड़ा होकर लड़ना है। 

गुलाम मोहम्‍मद ने कहा कि युवाओं से निवेदन है कि अमर्यादित शब्‍दों का प्रयोग न करें। कांग्रेस जिला अध्‍यक्ष युनुस चौधरी ने कहा कि जो जलियावाला बाग का मंजर था वही गाजीपुर बार्डर पर हाल थे। इसके बाद एक घंटे में एक हजार लोग पहुंचे। आपस में किसानों को लड़ाने की योजना बनाई जा रही है। तारा पहलवान ने कहा कि खाप की विजय होगी। किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर रखेंगे।  

तहसील में बुलाई गई सर्वखाप की महापंचायत में किसान ट्रैक्टर ट्रालियां लेकर पहुंच रहे हैं। पंचायत में भाग लेने वालों की तादाद बढ़ गई है। देशखाप चौधरी सुरेंद्र सिंह, चौबीसी खाप चौधरी सुभाष सिंह, चौगामा खाप चौधरी कृषिपाल राणा, पट्टी मेहर थांबा चौधरी ब्रजपाल सिंह, पूर्व विधायक वीरपाल राठी आदि भी पंचायत स्थल पर पहुंच गई है। ब्रजपाल सिंह ने बताया कि जल्द ही पंचायत शुरू होगी, जिसमें यह निर्णय लिया जाएगा कि 27 जनवरी को पुलिस ने जो धरना समाप्त कराया था, उसे दोबारा शुरू किया जाए या नहीं।