प्रधानमंत्री मोदी ने सेना को दी पूरी छूट, अब आतंकियों से होगी सीधी लड़ाई

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झांसी में विकास योजनाओं के उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए पुलवामा हमले को लेकर पाकिस्तान को आगाह किया है। पीएम ने कहा कि देश बहुत दुखी और उद्वेलित है। पुलवामा में हुए हमले से हर भारतीय आक्रोश में है, गुस्से में है। जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

‘सेना को खुली छूट’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा,

देश को सेना के शौर्य और सामर्थ्य पर बहुत भरोसा है। सुरक्षा बलों को पूरी छूट देदी गई है। समय क्या हो, स्थान क्या हो, स्वरूप क्या हो। ये सारे फैसले की उन्हें इजाजत दी गई है।पुलवामा हमले के गुनहगार और साजिशकर्ताओं को उनके किये की सजा जरूर मिलेगी। हमारा पड़ोसी देश ये भूल रहा है कि ये नई नीति और नई रीति वाला भारत है। आतंकी संगठनों और उनके आकाओं ने जो हैवानियत दिखाई है उसका पूरा हिसाब किया जाएगा। 

पीएम ने कहा कि पाकिस्तान आर्थिक बदहाली से गुजर रहा है। बड़े-बड़े देश उससे दूरी बना रहे हैं। वो कटोरा लेकर घूम रहा है। लेकिन दुनिया से आसानी से मदद भी नहीं मिल पा रही। भारत पर इस तरह के हमले के जरिए पाकिस्तान को लगता है कि भारत भी बदहाल हो जाएगा।

सीएम योगी भी कार्यक्रम में मौजूद रहे। सीएम के निर्देश पर मंच से फूलमालाएं हटा दी गईं थीं।

इससे पहले वंदे भारत एक्सप्रेस के उद्घाटन के मौके पर दिल्ली में  पीएम मोदी ने पुलवामा हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए देश के दुश्मनों को कड़ा संदेश दिया कि देश डरने वाला नहीं है। देश की सेना को खुली छूट दे दी गई है। वह शहीदों के बलिदान को जाया नहीं जाने देगी और दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देगी। इसके साथ ही अपने भाषण से पहले पीएम मोदी ने दो मिनट का मौन भी रखा।