अब विकास दुबे की खैर नहीं

Spread the love

लखनऊ से समूह संपादक मनीष गुप्ता की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश सरकार विकास दुबे खिलाफ खोलने जा रही है मोर्चा, ग्राउंड प्लानिंग बनाने के लिए इन चार सीनियर आईपीएस अफसर को आरोपी से निपटने के लिए लगाया जा सकता है. इन सभी के नाम 50 से लेकर 70 एनकाउंटर दर्ज हैं.
गौरतलब है कि 8 पुलिसकर्मियों की हत्या को 72 घंटे से ज़्यादा का वक्त बीत चुका है. आरोपी विकास अभी भी फरार चल रहा है, लेकिन उसके दो रिश्तेदार पुलिस एनकाउंटर में ढेर हो चुके हैं और एक गुर्गे को हिरासत में लिया गया है. इस शूटआउट में आरोपी तक पहले से दबिश की सूचना देने के आरोप भी कुछ पुलिसवालों पर लग रहे हैं. वहीं, विकास के चंबल के बीहड़ में पहुंचने की खबर भी आ रही है, जिसके चलते पुलिस ने बीहड़ों में भी अपनी पैनी निगाह लगा दी है.

कानपुर एनकाउंटर: चंबल के बीहड़ों में पहुंच गया 8 पुलिसवालों की हत्या का आरोपी गैंगस्‍टर विकास दुबे!

इस आईपीएस ने ठोका था ठोकिया गैंग का लीडर

कानपुर शूटआउट, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट, विकास दुबे, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, हत्या, हत्या, पुलिसकर्मी, चंबल, यूपी पुलिस
अनंत देव के नाम 60 से एनकाउंटर हैं.

अनंत देव की गिनती तेजतर्रार आईपीएस अफसरों में होती है. अनंत अब तक 60 से अधिक एनकाउंटर कर चुके हैं. पुलिसवालों को मारने वाला ठोकिया गैंग के लीडर ददुआ को भी अनंत देव ने ही मारा था. ददुआ को मारने के बाद उसकी पूरी गैंग का सफाया भी किया था. इसके अलावा भी बीहड़ों में सिर उठाने वाले नए-नए बदमाशों का सफाया करने का श्रेय अनंत देव को ही जाता है. इन्हें कई वीरता पुरस्कार भी मिले हैं.

रमेश कालिया को पहुंचाया था अंजाम तक

कानपुर शूटआउट, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट, विकास दुबे, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, हत्या, हत्या, पुलिसकर्मी, चंबल, यूपी पुलिस
नवनीत सिकेरा बारातियों का वेश बदलकर रमेश कालिया को निपटाया था.

आईपीएस नवनीत सिकेरा अब तक 56 से ज्‍यादा एनकाउंटर कर चुके हैं. नवनीत ने कुख्यात गैंगस्टर रमेश कालिया के आतंक को खत्‍म किया था. नवनीत की अगुआई में पुलिस ने बारातियों का वेश बदलकर रमेश कालिया को मौत के घाट उतारा था. कॉलेज में इंजीनियर बनने के लिए गए नवनीत थाने में पिता के साथ हुई अभद्रता के बाद आईपीएस बने थे.

डकैतों का सफाया करने में निभाया अहम रोल

कानपुर शूटआउट, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट, विकास दुबे, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, हत्या, हत्या, पुलिसकर्मी, चंबल, यूपी पुलिस

दलजीत चौधरी एसटीएफ से भी जुड़े रहे हैं.
पांच वीरता पुरस्कार पाने वाले दलजीत चौधरी अब तक 60 से ज्यादा एनकाउंटर कर चुके हैं. हाल ही में लखनऊ में सैफउल्लाह का एनकाउंटर किया था. दलजीत एसटीएफ से भी जुड़े रहे हैं. लखनऊ में व्यापारियों से रंगदारी वसूलने वाले कई बड़े बदमाशों को भी दलजीत चौधरी निपटा चुके हैं. दलजीत ने सबसे ज्यादा इटावा में डकैतों का सफाया किया है. आजकल पैरामिलिट्री फोर्स में हैं.

श्रीप्रकाश शुक्ला के सफाए में था अहम रोल

कानपुर शूटआउट, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट, विकास दुबे, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, हत्या, हत्या, पुलिसकर्मी, चंबल, यूपी पुलिस
श्रीप्रकाश शुक्‍ला के आतंक को खत्‍म करने में राजेश पाण्‍डेय की अहम भूमिका थी.

चार वीरता पुरस्कार पाने वाले आईपीएस राजेश पांडेय एसटीएफ में एसपी भी रहे हैं. माफिया और यूपी के सीएम की सुपारी लेने वाले श्रीप्रकाश शुक्ला को मारने वाली टीम का हिस्सा भी बने. एक लाख के इनामी मंजीत को कोलकाता में जाकर मारा था. बनारस ब्लास्ट में शामिल लश्कर के आतंकवादी सलार को भी राजेश पांडेय ने ढेर किया था. कहा जाता है कि किसी भी जिले में नेटवर्क बनाने में राजेश का कोई तोड़ नहीं है. वह अपराधियों के बारे में हमेशा आम लोगों से ही जानकारी जुटाते हैं. राजेश के नाम 50 से ज़्यादा एनकाउंटर बताए जाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *