कोरोनावायरस : यूपी में 5 दिन के भीतर 10 लाख लोगों की स्क्रीनिंग; 12 देशों से आए 697 लोगों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया

Spread the love

लखनऊ । उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और भारत-नेपाल बॉर्डर समेत कई जिलों में पिछले 5 दिनों में स्वास्थ्य विभाग की टीमों में करीब 10 लाख लोगों की स्क्रीनिंग की है। राज्य में अब तक 12 देशों से आए हुए 697 लोगों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। यूपी के 175 लोगों के सैंपल टेस्ट के लिए भेजे गए थे, इनमें अब तक 157 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। वहीं नेपाल से सटे 1765 गांवों में बैठक करके लोगों को बचाव के तरीके बताए गए हैं।

यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया- कोरोनावायरस से निपटने के लिए सरकार हर जरूरी कदम उठा रही है। वायरस का इन्फेक्शन रेट कम हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने एडवाइजरी जारी की है- खांसते-छींकते समय रूमाल का उपयोग करें। विदेशों से आए लोग अपने आप का ज्यादा ध्यान रखें। राज्य में 820 आइसोलेशन बेड तैयार किए गए हैं और इसके लिए 7 मेडिकल कॉलेज को जिम्मेदारी दी गई है। आगरा मामले पर भी टीम पूरी जांच कर रही है।

अधिकारियों के मुताबिक यूपी के लखनऊ, नोयडा, ग़ज़ियाबाद, आगरा, वाराणसी, मेरठ और वाराणसी में स्कैनिंग सेंटर बनाए गए हैं। हर सेंटर में पांच सदस्यीय टीम दो शिफ्टों में काम कर रह है। भारत-नेपाल सीमा पर वहां के मेडिकल कॉलेज में हैं स्क्रीनिंग सेंटर बनाए गए हैं, जहां बाहर से आने वाले लोगों की जांच की जा रही है।

आगरा में एक परिवार के छह लोग संक्रमित

आगरा के जूता कारोबारी परिवार के 6 लोगों को कोरोनावायरस से संक्रमित मिले हैं। यह परिवार इटली घूमकर लौटा था। परिवार के 7 अन्य लोगों को डॉक्टरों की विशेष निगरानी में रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *