मास्क और सैनिटाइजर बांटकर अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रही है “नेकी की दीवार”

Spread the love

पीलीभीत। (समाचार भारती के लिए पीलीभीत से सौम्या सिंह की रिपोर्ट)। उत्तर प्रदेश में “लॉक डाउन” के दौरान तमाम समाजिक संगठन बढ़-चढ़कर काम कर रहे हैं।उनका मानना है कि आम जीवन चलता रहे, आम जनमानस परेशान ना हो, उन्हें खाने-पीने से लेकर साफ-सफाई तक का ध्यान रखना चाहिए और इस बात को तमाम समाजिक संगठन बखूबी समझ चुके हैं और लोगों के बीच उतर कर अपनी जिम्मेदारियां भी निभा रहे हैं lलेकिन इन सबसे अलहदा पीलीभीत के पूरनपुर ब्लाक का एक सामाजिक संगठन “नेकी की दीवार” कुछ नया हमेशा से करता रहा हैl लॉक डाउन के दौरान कोरोनावायरस से बचने के लिए जहां गरीबों को जागरूक किया जा रहा है तो वही साफ-सफाई को ध्यान में रखते हुए और जान बचाने के लिए मास्क का वितरण इस ब्लॉक में किया जा रहा है l

यह सब कुछ मुमकिन हो सका है “नेकी की दीवार” के हौसलों के जरिए नेकी की दीवार के संस्थापक “गुरमेल सिंह” का मानना है कि उन्होंने अपने आईडीए से जहां एक तरफ ट्रिपल लेयर मास्क बनाया तो वही सैनिटाइजर भी खुद ही निर्मित करा कर पारदर्शिता के साथ जनता को बांट रहे हैं l यही नहीं दिन-रात संस्था के लोग मास्क और सेनीटाइजर बनाने में लगे हैं ऐसा मास्क अभी तक किसी भी सामाजिक संगठन में नहीं बांटा जो एक हेलमेट की तरह काम करता हो l इस स्मार्ट मास्क पर आगे की तरफ फाइबर का शीशा दिया गया है जो न सिर्फ कोरोना वायरस से बचाएगा बल्कि धूल और अन्य बीमारियों से भी आपके शरीर की रक्षा करेगा l

हजारों की संख्या में यह संस्था सैनिटाइजर, मास्क और किट बांट चुकी है संस्था का उद्देश्य है की लॉक डाउन 3 के दौरान भी लोगों को जागरूकता के साथ जिम्मेदारी का निर्वहन कराया जा सके l “नेकी की दीवार” की मुहिम सच में अपने आप में एक बड़ी कामयाबी है और तमाम सामाजिक संगठनों के लिए सीख लेने का एक सबब भी l पीलीभीत से कैमरापर्सन अभिषेक गौड़ के साथ सौम्या सिंह की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *