गरीबों को वोट बैंक में बांटकर पार्टियों ने अपना और परिवार का भला किया : पीएम मोदी

Spread the love

लखनऊ : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अयोध्या में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार भी केंद्र में मजबूत सरकार बनेगी। इस दौरान उन्होंने बसपा-सपा के गठबंधन पर जमकर हमला बोला। भाषण के अंत में पीएम मोदी ने जय श्रीराम का नारा भी लगाया। उन्होंने कहा कि लोहिया की बात करने वाले लोगों ने श्रमिकों के बारे में चिंता नहीं की।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश के 40 करोड़ से ज्यादा श्रमिक भाई- बहनों की इन पार्टियों ने कभी परवाह ही नहीं की। श्रमिकों और गरीबों को वोटबैंक में बांटकर इन लोगों ने सिर्फ अपना और अपने परिवार का फायदा पहुंचाया। उन्होंने कहा कि पहली बार देश में किसी सरकार ने गरीबों और श्रमिकों के बारे में सोचा है। हमने उनकी परवाह की है, उनका जीवन आसान बनाने के लिए काम किया है।

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बाबा साहेब आम्बेडकर का नाम जिस शहर से जुड़ा हो, जिस शहर से राम मनोहर लोहिया जी का नाम जुड़ा हो। ऐसे शहर में आकर मैं खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं।

पीएम मोदी ने कहा, ये मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम की भूमि है। ये स्वाभिमान की धरती है। देश में यही स्वाभिमान पिछले 5 साल में और बढ़ा है। हम 130 करोड़ लोगों की भुजाओं को साथ लेकर चले हैं। अब इन्ही भुजाओं की सामर्थ्य पर हम नए भारत का सपना साकार करने की तरफ बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मैंने हर गरीब के दर्द को समझा है, उसके दर्द को सुना है, उसकी बीमारी को समझा और उसकी जिंदगी को जाना है, इसलिए आयुष्मान भारत योजना से मैं गरीबों की बीमारी से लड़ रहा हूं। मिशन इंद्रधनुष के तहत हमने जानलेवा बीमारी से बचाव के लिए टीकाकरण का दायरा बढ़ाया है। इस योजना का लाभ भी बड़े स्तर पर गरीब भाई-बहनों को हो रहा है। हमारी आंगनवाड़ी बहनों, आशा बहनों और हमारे डाकियों के वेतन में बरसों बाद वृद्धि का काम भी हमारी ही सरकार ने किया है।

पीएम मोदी ने कहा अयोध्या में दीप तो हजारों वर्षों से जलते आए हैं, लेकिन अब जो दीपावली मनाई जाती है, वो दुनियाभर में चर्चा का विषय बनती है। उन्होंने कहा कि जब ASEAN समिट के दौरान, वहां से आए कलाकार अपने-अपने देशों में प्रचलित रामायण के अंश प्रस्तुत करते हैं, तो सबकी नजर जाती है।

पीएम मोदी ने कहा, एक नए हिंदुस्तान के रास्ते पर चल पडें हैं। जो छेड़ता नहीं है, लेकिन कोई छेड़ेगा तो छोड़ता भी नहीं है। खतरा सीमा के भीतर हो या फिर सीमा के पार, ये नया हिंदुस्तान घर में घुसकर मारेगा। गोली का जवाब गोले से देगा।

पीएम बोले, 2014 से पहले अयोध्या, फैजाबाद और अन्य जगह कैसे-कैसे धमाके हुए ये हम कैसे भूल सकते हैं। वो दिन हम कैसे भूल सकते हैं जब आए दिन भारत में हमला होता था। बीते पांच वर्ष में इस तरह के धमाकों की खबर आनी बंद हो गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *