छत्तीसगढ़ के शहीदों को कॉमिक्स से जानेंगे स्कूली बच्चे, सरकार ने की ये तैयारी

Spread the love

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की महान विभूतियों की जीवनी अब स्कूली छात्रों को कॉमिक्स (Comix) के अंदाज़ में पढ़ने को मिलेंगी. छत्तीसगढ़ सरकार के पाठ्यपुस्तक निगम (Textbook corporation) ने प्रदेश के 40 महापुरुषों और शहीदों की जीवनी को कार्टून बेस्ड किताबों (Cartoon based book) में तैयार किया है. इन कॉमिक्स का प्रकाशन किया जा चुका है. कॉमिक्स को स्कूलों की सिलेबेस में शामिल किताबों की सूची में रखा जाएगा.

छत्तीसगढ़ में महापुरुषों और शहीदों की कहानी बच्चों को उन्ही के अंदाज़ में पढ़ाई जाएंगी. कॉमिक्स में महान विभूतियों की जीवनी पाठ्यपुस्तक निगम ने तैयार की है. इसमें गुरु घासीदास, शहीद वीरनारायण सिंह, गुण्डाधुर, दाऊ मंदराजी, महाराजा चक्रधर, पंडित सुंदरलाल शर्मा जैसे महापुरुषों की कहानी हैं तो वहीं शहीद कौशल यादव और नक्सलियों से लोहा लेते हुए शहीद होने वाले विनोद चौबे की जीवनी भी बतायी गयी है. इसके अलावा अविभाजित मध्यप्रदेश के पहले मुख्यमंत्री पं. रविशंकर शुक्ल और श्यामाचरण शुक्ल जैसे कुशल राजनीतिज्ञों की जीवनी प्रदेश के स्कूली छात्र अब कॉमिक्स के जरिए पढ़ेंगे.

इनकी पहल पर कवायद
छत्तीसगढ़ पाठ्यपुस्तक निगम के महाप्रबंधक डॉ. अशोक  ने बताया कि राजीव गांधी शिक्षा मिशन की पहल पर पाठ्यपुस्तक निगम ने 40 महापुरुषों और विभूतियों की कहानी को कॉमिक्स के रूप में संजोया है. ये कॉमिक्स सरकारी स्कूलों की लाइब्रेरी के अलावा रायपुर की सेंट्रल लाइब्रेरी और दूसरे जिलों के वाचनालयों में भी भेजी जा रही हैं. जिससे की प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे भी प्रदेश के नामचीन चेहरों को जान सकें. बच्चे कॉमिक्स पढ़ने में ज्यादा रुचि रखते हैं. ऐसे में बच्चे सचित्र जीवनी के जरिए प्रदेश की विभूतियों को जान पायेंगे. पाठ्यपुस्तक निगम ने इसके लिए करीब डेढ़ से दो लाख पुस्तकों की छपायी की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *