यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने किया दावा, दो चरणों में सपा-बसपा-कांग्रेस रहे जीरो

Spread the love

संभल/फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के लिए मतदान के संपन्न हो चुके दो चरणों में सपा, बसपा और कांग्रेस ‘जीरो’ रहे हैं. योगी ने संभल में एक जनसभा में कहा, “मतदान के दो चरण हो चुके हैं. भाजपा को सबसे ज्यादा वोट मिले हैं.” उन्होंने कहा, “दो चरणों में 16 सीटों पर सपा जीरो, बसपा जीरो और कांग्रेस जीरो रहे हैं.” योगी ने कहा, ”गुणा का एक नियम है कि जीरो को किसी से भी गुणा करो तो परिणाम जीरो ही आता है. ऐसा ही है बसपा के साथ, सपा से गुणा करने पर जीरो ही आने वाला है.” मुख्यमंत्री ने कहा कि संभल का गौरवशाली इतिहास रहा है लेकिन कुछ लोगों ने इसकी पहचान को बदल कर रख दिया. गुंडाराज, अराजकता और भ्रष्टाचार ने इसकी पहचान को बदल कर रख दिया ‘‘लेकिन हम इसकी पहचान को फिर से कायम करने आये हैं.”

उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने कैला देवी मंदिर का सौंदर्यीकरण नहीं किया. सपा सरकार भेदभाव करती रही, लेकिन हमारी सरकार में भेदभाव नहीं हो सकता है. सम्भल के कैला देवी में आयोजित सभा में योगी ने कहा, “तीन दिन तक बजरंग बली की साधना करने के बाद आपके पास आया हूं. यहां मैंने मां कैला देवी के दर्शन किए हैं.” उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पांच साल में अभूतपूर्व विकास किया है और बिना किसी भेदभाव के काम किया है.

“याद करिए, कांग्रेस की सरकार थी, मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे तो उन्होंने कहा था कि देश के संसाधनों पर पहला अधिकार मुस्लिमों का है जबकि मायावती ने अभी सहारनपुर की रैली में कहा कि मुसलमानों, एक हो जाओ. सपा-बसपा गठबन्धन को वोट करो. हमने कभी जाति मजहब के नाम पर वोट नहीं मांगे.”

मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा सरकार में उत्तर प्रदेश में बिजली नहीं मिलती थी. बहन-बेटियों की इज्ज़त खतरे में रहती थी. तेजाब हमले होते थे. आज ऐसा कोई नहीं कर सकता. ऐसा करने वाले को कठोर सजा मिलेगी. योगी ने आजम खान का नाम लिये बगैर कहा कि सपा का एक जीव रामपुर में रहता है जो बाबा भीमराव आंबेडकर के बारे में कैसी भाषा का उपयोग करता था. आज बाबा साहेब का अपमान करने वाले के लिए मायावती वोट मांग रही हैं.

योगी ने फिरोजाबाद के सिरसागंज में एक अन्य जनसभा में कहा, ”मायावती ने एक बयान देकर कहा था कि अगर बाबा साहेब का संविधान नहीं होता तो अखिलेश भी किसी जमींदार के यहां भैस चरा रहे होते.” उन्होंने कहा, ”ये दोनों एक-दूसरे को कभी देखना नहीं चाहते थे लेकिन अब दोनों गठबंधन में हैं.” योगी ने कहा कि प्रदेश में सपा और बसपा दोनों ने शासन किया लेकिन विकास के बदले उन्होंने गुंडागर्दी के नए कीर्तिमान स्थापित किए. साथ ही युवाओं को नौकरी के नाम पर छला.

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार बनी तो कृष्ण जन्माष्टमी पर रोक लग गई. जब इनकी सरकार बनी तो हिंदू दहशत में थे. किसी पर्व के दौरान ऐसा कुछ न हो जाए जिससे परेशानी बढ़ जाए. लेकिन हमने इस पर काम किया. योगी ने कहा, ”हम जब सत्ता में आए तो सबसे पहले हमने बूचड़खाने पर रोक लगाई. साथ ही कांवड़ यात्रा की फिर से शुरुआत की… साथ ही रामपुर में रहने वाले लोगों पर रोक लगाई जो बहन-बेटियों की इज्जत नहीं करते हैं.” मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा नेता रामगोपाल यादव द्वारा पुलवामा के शहीदों का अपमान किया गया. उन्होंने सेना पर सवाल उठाया. रामगोपाल पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *