स्मृति ईरानी पर बरसीं प्रियंका, कहा- जूते बांटकर राहुल का नहीं, अमेठी की जनता का किया अपमान

दो दिवसीय दौरे पर रायबरेली के फुर्सतगंज पहुंचीं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी पर जमकर हमला बोला. एक नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी ने अमेठी के लोगों में जूते बांटकर राहुल गांधी का नहीं, बल्कि यहां की जनता का अपमान किया है.

प्रियंका गांधी ने नुक्‍कड़ सभा में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “आपके क्षेत्र में बहुत बाहरी लोग भी आ गए हैं. वे लंबी-लंबी कहानियां बता रहे हैं कि राहुल जी आते नहीं हैं. आप फुर्सतगंज के सामने रहते हो आपको मालूम है कि राहुल जी कितना आते हैं और कितना घूमते हैं. आपको मालूम है किसके दिल में अमेठी है और किसके दिल में नहीं. अजीब बात तो मुझे ये लगती है कि स्मृति ईरानी जी यहां आईं और यहां जूते बांटे. ये कहने के लिए यहां के लोगों के पास जूते नहीं हैं. यह राहुल जी का अपमान नहीं है. यह अमेठी की जनता का अपमान है. अमेठी की जनता ने कभी किसी से भीख नहीं मांगी है. जो आया है उनके सामने आदर के साथ आया है. जो खड़ा है उनके सामने वो प्यार के साथ खड़ा है. मेरे परिवार के एक-एक सदस्य को पूरा एहसास है कि हमें बनाने वाले आप हैं. हमें नेता बनाने वाले आप हैं. जूते बांटकर जो अपमान कर रहे हैं, उनको सिखाइए कि अमेठी-रायबरेली की जनता भीख नहीं मांगती.”

प्रियंका गांधी ने कहा कि आज देश की हालत बहुत ख़राब है. मैं जहां-जहां भी जा रही हूं सभी परेशान हैं. किसान कह रहा है कि वह रात-रात भर जागकर अपने खेतों की सुरक्षा कर रहा है. आवारा पशुओं की वजह से उसकी जिंदगी बर्बाद हो रही है. भदोही में कालीन व्यवसाय चौपट हो गया है.