Janmashtami 2019: भारत के अलावा इन 5 देशों में भी मनाई जाती है जनमाष्टमी

Spread the love

नई दिल्ली। जन्माष्टमी हिंदुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक है. पूरे देश के कोने-कोने में इसे धूम-धाम से मनाया जाता है, लेकिन क्या आपको पता है कि भगवान कृष्ण की लोकप्रियता केवल भारत में ही नहीं है. अन्य कई देशों में भी भगवान कृष्ण की पूजा की जाती है और तो और यहां कृष्ण मंदिर भी मौजूद है. अब हमारे देश में जन्माष्टमी के उत्सव के रंगों के बारे में तो आपने खूब सुना होगा, पर क्या आपको पता है कि भारत के अलावा इन 5 देशों में भी जन्माष्टमी बड़े धूम धाम से मनाई जाती है-

न्यूज़ीलैंड

न्यूज़ीलैंड ऑस्ट्रेलिया के पास स्थित देश है. ‘सिटी ऑफ सेल्स’ के नाम से मशहूर न्यूज़ीलैंड के शहर ऑकलैंड में भगवान श्रीकृष्ण और राधा का लोकप्रिय मंदिर स्थित है. जन्माष्टमी के दिन इसकी खूबसूरती देखते बनती है. इस दिन मध्यरात्रि में, मंदिर रोशनी, प्रार्थना और भक्ति संगीत के साथ उत्सव में रमा हुआ रहता है. न्यूजीलैंड में रहने वाले सबसे अधिक भारतीय ऑकलैंड शहर में ही रहते हैं. वर्तमान में इस देश की 4% आबादी भारतीय है.

कनाडा

कनाडा में सबसे अधिक भारतीय रहते हैं. ऐसे में यहां जनमाष्टमी का अलग रंग देखने को मिलता है. यहां स्थित रिचमंड हिल हिंदू मंदिर में, आप इस त्योहार से संबंधित संगीत समारोहों का आनंद ले सकते हैं. आधी रात को यहां की शंख ध्वनि और फूलों की मनमोहक खुशबू आपको पूरी तरह से एक अलग दुनिया में ले जाएगी.

मलेशिया

मलेशिया के कुआलालम्पुर में बारतीय समुगदाय के लोग ड्रामा, नाच गाने के साथ भगवान कृष्ण का जन्मदिवस मनाते हैं. इस दिन पूजा के बाद मिलने वाला प्रसाद खाकर आप अपनी उंगलियां चाटते रह जाएंगे.

पैरिस

सिटी ऑफ लाइट्स पैरिस में जन्माष्टमी का उत्सव! सोचकर ही हैरानी होती है न. लेकिन हैरान होने की कोई बात नहीं है. जन्माष्टमी के दिन इस शहर में स्थित राधा पैरिसीसवारा मंदिर में खूब धूमधाम से भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन मनाया जाता है. यहां व्रत किए हुए भगवान श्रीकृष्ण की पूजा करते लोग आपको दिख जाएंगे.

सिंगापुर

सिंगापुर के मार्केट में जब आप भगवान कृष्ण की मूर्तियां झूले, बांसुरी मिलते देखते हैं तो विश्वास ही नहीं होता कि अपने देश से दूर आप किसी और देश में हैं. यहां स्थित श्रीलक्ष्मीनारायण मंदिर में जन्माष्टमी के दिन गजब की रौनक देखने को मिलती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *