Kisan Andolan : कृषि कानूनों की कॉपी जलाकर आज लोहड़ी मनाएंगे किसान, पर्व मनाने दिल्ली आ रहे है प्रदर्शनकारियों के परिवार

Spread the love

नई दिल्ली। मोदी सरकार द्वारा लाये गये तीन नए कृषि कानूनों पर सुप्रीम कोर्ट के रोक लगाए जाने के बाद भी आंदोलन जारी है. राजधानी दिल्ली में कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों आज लोहड़ी का पर्व मनाने जा रहे हैं. मंगलवार को दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को लोहड़ी के त्योहार की तैयारी करते देखा गया. वहीं आज शाम को किसान तीनों कानूनों की कॉपी जलाकर लोहड़ी का पर्व मनाएंगे.

हिन्दुस्तान टाइम्स में छपे एक रिपोर्ट के अनुसार कई किसानों ने कहा कि उनके परिवार के सदस्य भी उनके साथ लोहड़ी मनाने के लिए बुधवार को दिल्ली जा रहे हैं. वहीं सिंघू बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे एक किसान ने कहा कि मेरे माता-पिता ने मुझसे पूछा कि क्या मैं लोहड़ी के लिए घर आ रहा हूं. जब मैंने उन्हें बताया कि मैं आंदोलन के बीच में नहीं आ सकता, तो उन्होंने मुझे यहाँ मिलाने का फैसला किया. त्योहार मनाने के लिए बुधवार को कई अन्य प्रदर्शनकारियों के माता-पिता और परिवार के सदस्य दिल्ली पहुंच रहे हैं.

वहीं तरनतारन की 58 वर्षीय किसान गुरप्रीत कौर ने कहा कि लोहड़ी नई फसल के मौसम की शुरुआत का प्रतीक है., हम अच्छी फसल के लिए प्रार्थना करते हैं अलाव जलाकर और गीत गाकर और उसके चारों ओर नाचते हुए. इस साल, हम तीन नए कानूनों की प्रतियां जलाकर प्रतिरोध के गीत गाएंगे.

बता दें कि दिल्ली की चार प्रमुख सीमाओं सिंघू, टिकरी, यूपी गेट और चिल्ला में आंदोलन ने मंगलवार को 48 वें दिन प्रवेश कर गया है. मालूम हो कि मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपने अगले आदेश तक कृषि कानूनों पर रोक लगा दिया है और एक चार सदस्ययी कमेटी का गठन किया है. गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस के दिन देशभर के किसान दिल्ली पहुंचकर शांतिपूर्ण तरीके से ट्रक्टर रैली करने की योजना बना रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *