अरुणाचल जा रहा है वायुसेना का विमान AN-32 लापता, तलाश जारी

Spread the love

नई दिल्ली। असम के जोरहाट से उड़ान भरने वाला भारतीय वायुसेना ( Indian Air Force ) का विमान लापता हो गया है। विमान संख्या AN 32 दोपहर 12.25 बजे उड़ान भरी थी, लेकिन उड़ान भरने के 35 मिनट बाद ही विमान से संपर्क टूट गया। ये विमान अरुणाचल प्रदेश के लिए रवाना हुआ था। बताया जा रहा है कि जोरहाट से 25 किलोमीटर की दूरी पर मलबा मिला है। सुखोई विमान को इसकी तलाश के लिए लगाया गया था। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ( Rajnath Singh ) पूरे ऑपरेशन पर नजर रखे हुए हैं।

उड़ान भरने के 35 मिनट बाद लापता

जानकारी के मुताबिक IAF का AN 32 विमान 8 क्रू मेंबर और पांच यात्रियों को लेकर अरुणाचल प्रदेश ( Arunachal Pradesh ) के मेचुका एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड के लिए रवाना हुआ था। ये लैंडिंग स्ट्रिप पश्चिम जियांग में स्थित है। जो भारत चीन सीमा से महज 30 किलोमीटर दूर है। 2013 से बंद इस लैंडिंग ग्राउंड को पिछले साल 12 जुलाई को दोबारा शुरू किया गया था। तय स्थान पर नहीं पहुंचने पर वायुसेना के अधिकारियों ने दोपहर एक बजे संपर्क करने की कोशिश की लेकिन बात नहीं हो सकी।

तलाश में रवाना हुए दो विमान

वायुसेना के अधिकारी ने बताया कि एक निश्चित समय के बाद जब विमान लैंडिंग स्ट्रिप एरिया के वायुक्षेत्र में नहीं आया, तब हमने संपर्क करने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। लापता विमान में कुल 13 लोग सवार हैं। हम उसकी तलाश के लिए सुखोई 30 और C 123 रवाना कर चुके हैं।

गृहमंत्री ने वाइस चीफ एयर मार्शल से की बात

विमान लापता होने की खबर मिलते सरकार में खलबली मच गई। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने वायुसेना के वाइस चीफ एयर मार्शल राकेश सिंह भदौरिया से बात की। उन्होंने मुझे वायुसेना की ओर से चलाए जा रहे सर्च ऑपरेशन की जानकारी दी है। मैं सभी यात्रियों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं।

बता दें कि 10 साल पहले जून 2009 में N32 विमान इसी स्थान पर क्रैश हुआ था। उस वक्त भी विमान में 13 लोग ही सवार थे।

क्या होता है AN-32 विमान ?

AN-32 का पूरा नाम Antonov -32 है। वायुसेना इसका इस्तेमाल खात तौर पर ट्रांसपोर्ट के लिए करती है। यह विमान 55°C से भी अधिक के तापमान में टेक ऑफ कर सकता है। इसलिए इसे मध्यम श्रेणी के विमान सेवा के लिए रीढ़ की हड्डी कही जाती है। भारतीय वायुसेना के पास इस वक्त करीब 100 AN-32 विमान हैं। इसमें कम से कम 5 क्रू-मेंबर होंते हैं। इसकी अधिकतम क्षमता 50 लोगों को ढोने की है।

तारीख विमान लापता

8 जनवरी 2019 Jaguar (जगुआर)

1 फरवरी 2019 Mirage (मिराज-2000)

12 फरवरी 2019 MiG-27 UPG

19 फरवरी 2019 Bae Hawk 132

27 फरवरी 2019 Mil Mi-17 V5

27 फरवरी 2019 MiG-21 Bison

08 मार्च 2019 MiG-21 Bison

31 मार्च 2019 MiG-27 UPG

03 मार्च 2019 AN-32

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *