इंदौर : विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश ने निगम अफसर को बैट से पीटा, 11 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया

Spread the love

इंदौर। शहर में भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश ने बुधवार को निगम के दो अधिकारियोंको बैट से पीटा। निगम का अमला गंजी कंपाउंड में एक जर्जर मकान को तोड़ने पहुंचा था। इसी दौरान स्थानीय लोगों ने आकाश को बुला लिया। आकाश के समर्थकों ने भी अधिकारियों को पीटा। आकाश इंदौर-3 सीट से भाजपा विधायक हैं। पुलिस नेआकाश को गिरफ्तार करलिया। उन्हेंकोर्ट में पेश किया गया। इंदौर की कोर्ट ने उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया। उन्हें 11जुलाई तक की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

इससे पहलेस्थानीय लोगों के बुलाने पर आकाश ने मौके पर पहुंचकर निगम के अधिकारियों को धमकी भी दी। विधायक के आते ही कार्यकर्ताओं ने जेसीबी की चाबी निकाल ली। आकाश ने अधिकारियों से कहा कि 10 मिनट में यहां से निकल जाना, वर्ना जो भी होगा उसके जिम्मेदार आप लोग होंगे। इसी दौरान अधिकारियों से कहासुनी हो गई। तभी आकाश ने अधिकारी को बैट से पीटना शुरू कर दिया। हालांकि, पुलिस और अन्य लोगों ने किसी तरह विधायक को पकड़कर शांत करवाया।

आकाश समेत 11 पर मामला दर्ज

निगम कर्मचारियों से मारपीट मामले में विधायक आकाश समेत 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया।भाजपा कार्यकर्ताओं ने एमजी रोड थाने का घेराव किया। उधर, भवन निरीक्षक धीरेंद्र बायसऔर भवन अधिकारी असित खरे के साथ विधायक द्वारा मारपीट करने के बाद निगम कर्मचारियों ने काम बंद कर दिया।

आकाश ने कहा- मैंने क्या कर दिया मुझे याद नहीं

विवाद के बाद आकाश ने कहा,‘मैं बहुत गुस्से में था। मैंने क्या कर दिया मुझे नहीं पता। निगम के अफसर ने एक महिला के साथ गाली-गलौज की और हाथ पकड़ा, जिससे मुझे गुस्सा आ गया।’

गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा है कि सरकारी कर्मचारियों के मारपीट करने पर आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि इस घटना से भाजपा का चाल चरित्र चेहरा उजागर हुआ है। कानून मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि आरोपी विधायक पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *