1460 करोड़ में पूरा होगा CM कमलनाथ का ‘सपना’, छिंदवाड़ा बनेगा एजुकेशन-मेडिकल का हब

Spread the love

छिंदवाड़ा। मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) ने बुधवार को छिंदवाड़ा (Chhindwara) में सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल (Super Specialty Hospital) का शिलान्यास किया. इसके अलावा उन्‍होंने 224 करोड़ की लागत से बनने वाले जेल कॉम्प्लेक्स (Jail Complex) की आधारशिला भी रखी. बता दें, सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल 1460 करोड़ में बनाया जा रहा है और इस 9 मंजिला हॉस्पिटल के ऊपर हेलीपैड (Helipad) होगा. छिंदवाड़ा में मध्य भारत का सबसे बेहतर हॉस्पिटल बनाना मुख्यमंत्री कमलनाथ का सपना था. जबकि कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री विजय लक्ष्मी साधो, सुखदेव पांसे, लखन घनघोरिया और बाला बच्चन मुख्य रूप से मौजूद थे.

इस वजह से बन रहा है सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटलगौरतलब है कि छिंदवाड़ा के मरीजों को उपचार के लिए नागपुर का सहारा लेना पड़ता था, लेकिन सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बन जाने के बाद नागपुर और आसपास के जिले के लोग इस अस्पताल में उपचार के लिए आ सकेंगे. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस दौरान कहा कि एम्स की बजाए सिम्स में उपचार कराना बेहतर होगा. उन्‍होंने यह भी स्पष्ट किया कि अस्पताल को बेहतर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी. अस्पताल उनका सपना था, जो आज पूरा हो रहा है. इसमें 1200 बेड होंगे.

गौरतलब है कि छिंदवाड़ा के मरीजों को उपचार के लिए नागपुर का सहारा लेना पड़ता था, लेकिन सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बन जाने के बाद नागपुर और आसपास के जिले के लोग इस अस्पताल में उपचार के लिए आ सकेंगे. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस दौरान कहा कि एम्स की बजाए सिम्स में उपचार कराना बेहतर होगा. उन्‍होंने यह भी स्पष्ट किया कि अस्पताल को बेहतर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी. अस्पताल उनका सपना था, जो आज पूरा हो रहा है. इसमें 1200 बेड होंगे.

खजाने को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यह भी कहा कि वर्तमान में खजाना खाली है और ऐसे में योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर दिक्कतें पेश आ रही है. केंद्र सरकार दूसरे राज्यों की तुलना में मध्य प्रदेश को कोई खास मदद नहीं कर रही है. इसलिए प्रदेश सरकार को खुद के माध्यम से इस चुनौती का सामना करना पड़ रहा है.

जबकि इस कार्यक्रम में सांसद नकुल नाथ ने भी अपने विचार व्यक्त किए. सांसद ने कहा कि छिंदवाड़ा को एजुकेशन और मेडिकल का हब बनाया जाना, उनका लक्ष्य है और इसी दिशा में वे काम कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *