मां नर्मदा के उद्गम स्थल में हर साल होगा महोत्सवः कमलनाथ

Spread the love

अनूपपुर। पवित्र नगरी अमरकंटक में तीन दिवसीय नर्मदा महोत्सव का शुभारंभ किया गया। मुख्यमंत्री कमलनाथ सुबह साढ़े ग्यारह बजे के लगभग जनजतीय विश्वविद्यालय परिसर के हेलीपेड पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिह के साथ पहुंचे। यहां कुछ समय रुकने के बाद वे सीधे पवित्र नगरी अमरकंटक की ओर रवाना हो गए। अमरकंटक में महोत्सव का शुभारंभ करते हुए सीएम ने कहा कि मध्यप्रदेश का चेहरा तेजी से बदल रहा है, मध्य प्रदेश की तुलना छोटे प्रदेशों से नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में नए निवेश को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इससे प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां बढ़ेगी, युवाओं के लिए रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, मध्य प्रदेश की नई पहचान बनेगी। उन्होंने कहा कि हम मध्य प्रदेश का एक नया इतिहास बनाने की प्रतिबद्घता के साथ काम कर रहे हैं।

सबसे बड़ी चुनौती कृषि क्षेत्र और नौजवानों कीः मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि अमरकंटक क्षेत्र का विकास तेजी से किया जा रहा है। आज हमारी सबसे बड़ी चुनौती कृषि क्षेत्र और नौजवानों की है, युवाओं को रोजगार चाहिए। प्रदेश में युवाओं का भविष्य सुरक्षित हो इसके प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में जय किसान फसल ऋण माफी योजना में प्रथम चरण में 21 लाख किसानों का कर्जा माफ हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसानों का 2 लाख रुपए तक का कर्जा माफ करने का वचन दिया था, कर्ज माफी का कार्य तेजी से किया जा रहा है।

शोभायात्रा निकाली गईः मां नर्मदा के उद्यम स्थल नर्मदा मंदिर अमरकंटक से नर्मदा की शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें मां नर्मदा को रथ में विराजमान किया गया था। प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ अमरकंटक मंदिर परिसर से निकाली गई शोभायात्रा में शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *