रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय में फिर सामने आई मूल्यांकन में गड़बड़ी, सैकड़ा भर छात्राएं हुई फेल

Spread the love

जबलपुर/बालाघाट. रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय से सम्बद्ध  बालाघाट के कमला नेहरू कन्या महाविद्यालय की बीएससी बॉटनी पांचवें सेमेस्टर की सैकड़ा भर छात्राओं को फेल कर दिया गया। जिससे छात्राओं ने मूल्यांकन कार्य में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के कुलपति परीक्षा नियंत्रक के नाम महाविद्यालय प्राचार्य को 2 अप्रैल को ज्ञापन सौंपा। छात्राओं ने बताया कि हमारा प्रश्नपत्र अच्छा गया था लेकिन एक साथ सैकड़ा भर से अधिक छात्राओं का अनुत्तीर्ण होना मूल्यांकन प्रणाली पर संदेह उत्पन्न करता है।

इस दौरान बॉटनी विषय के पांचवें सेमेस्टर की छात्राओं ने बताया कि गत दिवस बीएससी बॉटनी पांचवें सेमेस्टर का परिणाम घोषित किया गया है। जिसमें सैकड़ों छात्राओं को कम अंक देकर एक साथ फेल कर दिया गया है जो कि अनुचित है। उन्होंने बताया कि सभी छात्राओं का इस तरह अनुतीर्ण होना विश्वविद्यालय द्वारा की गई गंभीर लापरवाही को दर्शाता है। जिससे वे आगे की पढ़ाई करने में स्वयं को अनुचित समझ रही है, आगे के सेमेस्टर में प्रवेश लेने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। छात्राओं ने बताया कि परीक्षा शुल्क से अधिक शुल्क 2500 रुपए ऐटी-केटी की है। जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि ऐटी-केटी फीस वसूलने के लिए ही इस तरह के परीक्षा परिणाम घोषित किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि इसके पूर्व भी इस तरह के परिणाम घोषित किए गए है जिसका महाविद्यालयीन छात्रों द्वारा विरोध किया गया था।

उन्होंने कुलपति प्रो. कपिल देव मिश्र, विधायक हिना कावरे, केबिनेट मंत्री प्रदीप जायसवाल एवं राज्यपाल श्रीमती आनंदी बेन पटेल के नाम ज्ञापन सौंप महाविद्यालयीन छात्राओं के भविष्य को देखते हुए परीक्षा परिणाम की पुन: जांच कराने की मांग की है। इस दौरान छात्र नेता विद्या परिहार सहित महाविद्यालय की छात्रा अनुराधा तिवारी, सुनिता राहंगडाले, प्रीति मेश्राम, आरती मेश्राम सहित अन्य शामिल रहे।

डिप्टी रजिस्ट्रार दीपेश मिश्रा परीक्षाओं में करते हैं धांधली: ईसी मेंबर का आरोप

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *