मध्यप्रदेश में दौड़गी दुनिया की सबसे तेज रफ्तार वाली ट्रेन, 39 मिनट में तय होगी 11 घंटे की दूरी

Spread the love

भोपाल। मध्यप्रदेश के सीएम कमल नाथ इन दिनों दुबई यात्रा में हैं। सीएम कमल नाथ के निमंत्रण पर दुबई के उद्योगपतियों ने मध्यप्रदेश में निवेश की इच्छा जताई है। दुबई की वर्जिन हाइपरलूप वन कंपनी के डॉयरेक्टर नौशाद ओमेर से मुलाकात की। इस दौरान नौशाद ओमेर ने इंदौर से भोपाल के बीच हाइपरलूप ट्रेन चलाने की सहमति जताई है। इस ट्रेन को कैप्सूलनुमा ट्रेन भी कहा जाता है।

ये दूसरा मौका है जब देश में हाइपरलूप ट्रेन चलाने की तैयारी हो रही है। देश में पहली बार हाइपरलूप ट्रेन के प्रोजेक्ट के लिए मुंबई से पुणे के बीच के रूट का चयन किया गया है। हाइपरलूप ट्रेन 20 मिनट में मुंबई से पुणे आ-जा सकेंगे। अभी ट्रेन से ये सफर 3 घंटे का है। वहीं, इंदौर से भोपाल मके बीच अभी भारीतय रेल में करीब 4 घंटे का वक्त लगता है। हाइपरलूप ट्रेन भोपाल से दिल्ली की दूरी केवल 39 मिनट में तय करेगी। भोपाल से दिल्ली के लिए अभी करीब 11 घंटे से ज्यादा का वक्त लगता है।

हाइपरलूप ट्रेन की खासियत कहा जाता है कि ये ट्रेन बुलेट ट्रेन से दोगुनी स्पीड से चलती है। इस ट्रेन की रफतार करीब 1200 किमी प्रतिघंटे है। हाइपरलूप ट्रेन की गति हवाई जहाज से भी ज्यादा होती है। हाइपरलूप ट्रेन के इस्तेमाल में बिजली का खर्चा बहुत कम होता और इस ट्रेन से पर्यावरण को कोई नकसान नहीं होता है। हालांकि ये भी कहा जाता है कि इस ट्रेन में एक साथ बहुत अधिक यात्री यात्रा नहीं कर सकते हैं। यह ट्रेन चुंबकीय तकनीक से लैस ट्रैक पर चलेगी। इस ट्रेन का आकार कैप्सूल की तरह होता है। इसी कारण से इसे कैप्सूलनुमा ट्रेन भी कहा जाता है।

बुलेट ट्रेन का काम जारी अभी भारत में बुलेट ट्रेन को लेकर काम जारी है। भारत में पहली बुलेट ट्रेन अहमदाबाद से मुंबई के बीच दौड़ेगी। भारत में बुलेट ट्रेन जापन से सहयोग से दौड़ाई जाएगी। बता दें कि हाइपरलूप ट्रेन भी भारत का एक सपना है और अब ट्रेन को चलाने की योजना बनाई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *