इंदौर : बजट सत्र में राष्ट्रगान काे बीच में रोककर वंदे मातरम गाया, विपक्ष ने कहा- एफआईआर दर्ज करवाई जाए

Spread the love

इंदौर.नगर निगम में बजट सत्र के दौरान बुधवार कोराष्ट्रगान का अपमान होने का दावा किया गया है।एमआईसी सदस्य राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत के बीच का अंतर भूल गए। इस बारबजट सत्र की शुरुआत यहां पर वंदे मातरम की जगह जन गण मन से हुई, लेकिनहस्तक्षेपके बाद सदस्यों ने जन गण मन का गायन बीच में ही रोक दिया और फिर वंदे मातरम का गायन शुरू कर दिया। इस दौरान सदन में महापौर मालिनी गौड़, निगम कमिश्नर आशीष सिंह, सभापति अजय सिंह नरुका के साथ बड़ी संख्या में एमआईसी के सदस्य मौजूद थे।

राष्ट्रगान के अपमान पर विपक्षी पार्षदों ने निगम कमिश्नर आशीष सिंह ने कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने दोषीपर एफआईआर दर्ज करवाने को कहा।कहा- इसे माफ नहीं किया जा सकता। सिंह ने पूरे मामले कीजांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया।

नगर निगम में आज बजट पेश

नगर निगम मेंबुधवार कोबजट सत्र-2019-20 के दौरान महापाैर मालिनी गाैड़ ने 96 करोड़ 79 लाख 56 हजार रुपए के घाटे का अनुमानित बजट पेश किया। इसमें5647 करोड़ 18 लाख 10 हजार रुपए की आय और 5574 करोड़ 40 लाख 68 हजार रुपए की अनुमानित व्यय बताई। इस बार के बजट में सबसे बड़ी चुनाैती वेस्ट के निपटान काे बताया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *