मध्यप्रदेशः सियासी संकट के बीच कमलनाथ सरकार ने राज्य में 3 नए जिलों को दी मंजूरी

Spread the love

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) आजकल देश भर में चर्चा बटोर रही है। जिसके पीछे की वजह राजनैतिक उठापटक है। इस बीच मध्यप्रदेश की कैबिनेट ने आज आनन-फानन में प्रदेश में 3 नये जिलों मैहर, नागदा एवं चाचौड़ा के गठन को मंजूरी दे दी है। इस बाबत मध्यप्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा ने आज कैबिनेट बैठक के बाद यह बात कही है।

कमलनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक

उन्होंने विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि राज्य के सीएम कमलनाथ की अध्यक्षता में आज कैबिनेट की बैठक हुई। इसमें 3 नये जिलों के गठन का निर्णय लिया गया है।उन्होंने कहा कि नागदा, मैहर एवं चाचौड़ा नये जिले बनाये गये हैं। इनकी लंबे समय से क्षेत्रीय जनता एवं स्थानीय विधायकों द्वारा लगातार मांग की जा रही थी।  चाचौड़ा वर्तमान में गुना जिले में आता है, जबकि मैहर सतना जिले और नागदा उज्जैन जिले में आता है।     

मध्यप्रदेश में जिलों की संख्या 55 पहुंची

बता दें कि वर्तमान में मध्यप्रदेश में 52 जिले हैं और इन तीन जिलों के गठन के बाद संख्या 55 हो जाएगी। शर्मा ने तीनों जिलों के लोगों को बधाई एवं शुभकामनांए दी है।उन्होंने कहा कि नया जिला बनने से वहां की प्रशासनिक व्यवस्था और सुधर जाएगी। मैहर विधानसभा सीट के बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी लंबे समय से मैहर को नया जिला बनाने की मांग कर रहे थे, जबकि चाचौड़ा के कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह एवं नागदा-खाचरोद के कांग्रेस विधायक दिलीप सिंह गुर्जर क्रमश: चाचौड़ा एवं नागदा को जिला बनाने की गुहार लगा रहे थे।  

बीजेपी विधायक ने कमलनाथ से की थी मुलाकात

वहीं लक्ष्मण सिंह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय के छोटे भाई हैं और उन्होंने कुछेक महीने पहले चाचौड़ा को जिला बनाने की मांग को लेकर यहां दिग्विजय सिंह के आवास पर धरना भी दिया था। मध्यप्रदेश में सियासी संकट के बीच पिछले चार-पांच दिन से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी सीएम के यहां उनके निवास पर अपनी विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्यों को लेकर लगातार मिलने जा रहे थे और कह रहे थे कि कमलनाथ की सरकार बहुमत में है।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *