लॉकडाउन फेज-3 : मध्यप्रदेश में संक्रमितों की संख्या 4 हजार पार; 2111 एक्टिव मरीज अस्पताल में

Spread the love

भोपाल। प्रदेश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4097 पर पहुंच चुकी है। इनमें 226 की मौत हो चुकी है। 1935 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं। 2111 एक्टिव मरीजों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है। प्रदेश में बुधवार को 51 नए मरीज मिले। इनमें सबसे ज्यादा 45 भोपाल से हैं। सागर में 3, सतना में 2 और भिंड में भी 1 पॉजिटिव सामने आया।भोपाल में मरीजों का आंकड़ा 864 से बढ़कर 909 हो गया है। अकेले जहांगीराबाद में 221 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

इससे पहले मंगलवार को राज्य में कोरोना के 201 मरीज मिले थे।6लोगों की मौत भी हुई। भोपाल में एक मौत और 54 पॉजिटिव मिले। इंदौर में मंगलवार को 91 नए पॉजिटिव सामने आए। यहां अब तक कुल 2107 संक्रमित मरीज हो चुके हैं।

कोरोना से निटपने के लिए एक लाख बेड की तैयारी
इधर, प्रदेश सरकार ने राष्ट्रीय स्तर पर जून-जुलाई में कोरोना के पीक पर होने की स्थितिसे निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इस समय प्रदेश में 35 हजार बेड की व्यवस्था है। वर्तमान स्थिति को देखते हुए बेड की संख्या बढ़ाकर इसे एक लाख किए जाने की तैयारी है। कोरोना के ताजा हालातों को देखते हुए अनुमान है कि आने वाले एक माह में कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या बढ़ सकती है, ऐसे में पहले सेतैयारी जरूरी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों से कहा कि वे इस दिशा में तेजी से काम करें।यह तस्वीर भोपाल की है। यहां मंगलवार रात 12.15 बजे करीब 50 दिन बाद दिल्ली-बिलासपुर राजधानी एक्सप्रेस हबीबगंज स्टेशन पहुंची।

लॉकडाउन फेज-4 की तैयारी शुरू

17 मई के बाद शुरू होने वाले लॉकडाउन फेज-4 में प्रदेश के सभी रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में शर्तों के साथ ढील बढ़ाने की तैयारी है। रात के समय पूरे प्रदेश में कर्फ्यू रहेगा। कंटेनमेंट वाले क्षेत्रों में ही पूरी सख्ती के साथ लॉकडाउन का पालन होगा।बाकी जगहों पर कोरोना से संबंधित प्रोटोकॉल और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करकेगतिविधियां बढ़ेंगी। मुख्य सचिव ने कलेक्टरों से भी 13 मई की शाम 4 बजे तक कोविड-19 की रिपोर्ट औरताजा स्थिति की जानकारी मांगी है, जिसके आधार पर गतिविधियां बढ़ाने का सुझाव केंद्र सरकार को 15 मई को भेजा जाएगा। राज्य शासन ने प्रदेश में लॉकडाउन खोलने के संबंध में नागरिकों से सुझाव मांगे हैं। वे mp.mygov.in पोर्टल पर 13 मई की शाम 4 बजे तकसुझाव दे सकते हैं।भोपाल के सबसे संक्रमित इलाके जहांगीराबाद के कंटेनमेंट क्षेत्र में पुलिस से बहस करते एक बुजुर्ग।

उज्जैन में पैदल यात्रा निकाल रहे 2 कांग्रेस विधायक समेत 7 लोग गिरफ्तार

यहां महाकाल मंदिर के बाहर बुधवार सुबह कांग्रेस के विधायक महेश परमार और विधायक मनोज चावला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दरअसल, दोनों विधायक भाजपा सरकार की नाकामी को लेकर किसान मजदूर अन्याय यात्रा निकालना चाह रहे थे। प्रशासन ने मना किया। बात नहीं बनी तो पुलिस ने विधायकाें काे हाथ-पैर पकड़कर गाड़ी में बिठाया। अब विधायक जेल में ही यात्रा को लेकर भूख हड़ताल पर बैठ गए।

इंदौर पहला शहर, जहां हजारों लोगों को दिए जाएंगेऑक्सीमीटर

शहर में जून-जुलाई में 13,438 संक्रमण के मामले सामने आने की संभावना जताई जा रही है। ऐसे में प्रशासन का सारा जोर होम आइसोलेशन पर है। माना जा रहा है कि चार हजार लोग ऐसे होंगे, जिन्हें होम आइसोलेशन में रखा जा सकता है। सभी को पल्स ऑक्सीमीटर दिए जाएंगे,ताकि वे खुद ही ऑक्सीजन का स्तर जांच कर जानकारी भेज सकें। इंदौर देश में पहला जिला है, जहां एसिम्प्टोमेटिक(जिनमें लक्षण न दिखें) मरीजों को पल्स ऑक्सीमीटर दिए जा रहे हैं। 80% मरीज ए-सिम्प्टोमेटिक ही होते हैं। अभी 27 पॉजिटिव मरीजों को होम आइसोलेशन रखा जाएगा। उनके परिजन को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा का डोज लेना अनिवार्य होगा।

पल्स ऑक्सीमीटर छोटी-सी मशीन होती है,जिसमें कोई भी उंगली रखकर शरीर में ऑक्सीजन का स्तर पता किया जाता है। सामान्य व्यक्ति में ऑक्सीजन का स्तर 94% से अधिक होना चाहिए। इससे कम पर माना जाता है कि मरीज को सांस लेने में दिक्कत है। कोरोना का सबसे बड़ा खतरा यही है कि मरीज को सांस लेने में परेशानी आती है। इस मशीन में हार्ट रेट का भी पता लगाया जाता है। बाजार में यह डेढ़ हजार रुपए में उपलब्ध है। जिला प्रशासन चिह्नित मरीजों को निःशुल्क देगा।सीहोर में संक्रमित इलाकों मे सर्वे करती स्वास्थ्य विभाग की टीम।

अमेरिका से उज्जैन के इंजीनियर ने भिजवाई 250 पीपीई किट

अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहकरआईटी कंपनी संचालित कर रहे उज्जैन फ्रीगंज के सौम्य माहेश्वरी ने यहांपुलिस के लिए उच्च क्वालिटी की 250 पीपीई किट भिजवाई हैं।कंटेंटमेंट क्षेत्र में ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी यह किट पहनकर ड्यूटी करेंगे तो संक्रमण से बचाव में काफी हद तक मदद मिलेगी। मंगलवार को एएसपी अमरेंद्र सिंह चौहान और डीएसपी एचएन बाथम फ्रीगंज में सौम्य के घर पहुंचे और उनके पिता मोहन सोनी, मां सरला सोनी को धन्यवाद दिया। सरला सोनी ने बताया कि सौम्य बड़ी मां तारा सोनी की प्रेरणा से यह कर पाया। हमें बेटे पर गर्व है कि विदेश में रहकर भी उसका अपने देश और गृहनगर के प्रति जो प्रेम है, वही हमारे लिए सबसे बड़ी खुशी है।रायसेन में 64 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम कैंप लगाकर लोगों की जांच कर रही है।

कोरोना अपडेट्स

  • भोपाल में 45 नए केस: बुधवार को राजधानी में 45 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें जहांगीराबाद के 18 मरीज हैं। इसके अलावा, तीन परिवारों के 3-3 सदस्य शामिल हैं।
  • सागर-सतना भिंड में नए मामले:सागर में सभी तीनों संक्रमित सदर क्षेत्र के रहने वाले हैं। अब कुल 13 केस हो गए। वहीं, सतना में नए मरीजों में एक पहले मिले संक्रमित के साथ गुजरात से आया था। दूसरा अमदरा के समीप गौरैया गांव का है। यहां अब तक 7 केस पाए गए। पहले मरीज की मौत हो चुकी है। इधर, भिंड के ऊमरी कस्बे में नया केस मिला। यह युवक दोस्त के साथ गुजरात के अहमदाबाद से बस से भिंड आया था। जिले में कुल 9 कोरोना पॉजिटिव हैं।
  • जबलपुर में 8 लोग स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज: सुखसागर मेडिकल कॉलेज स्थित कोविड केयर सेंटर से 8 लोगों को डिस्चार्ज किया गया। इससे पहले मंगलवार रात एक मरीज को स्वस्थ होने पर छुट्टी दी गई थी। जबलपुर में अब तक स्वस्थ होने वालों की संख्या 56 हो गई। यहां कोरोना के83 एक्टिव केस हैं।
  • शिवपुरी में ट्रक से टकराई बस, 8 मजदूर घायल: एबी रोड फोरलेन स्थित बदरवास के पास बरखेड़ा में मजदूरों को ले जा रहे 2 वाहन टकरा गए। इसमें 8 लोगों को चोट आई हैं। घटना बुधवार सुबह की है। एक बस कोल्हापुर से मजदूरों को शिवपुरी लेकर आ रही थी, जबकि ट्रक मजदूरों को लेकर भिंड जा रहा था। ट्रक खड़ा था, इसमें भिंड जिले के 40 मजदूर थे। जबकि बस में 30 मजदूर थे, ये शिवपुरी आ रहे थे। बस चालक को नींद आने से हादसा हुआ।
  • रीवा मेंट्रकदुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत, 15 घायल: यहां चोरहटा बाइपास मार्ग पर दो ट्रकों में टक्कर हो गई। इसमें एक श्रमिक की मौत हो गई। 15 घायल हो गए। ट्रक मुंबई से मजदूरों को लेकर प्रयागराज जा रहा था। कुल 38 श्रमिक सवार थे। इनमें कुछ रीवा जिले के भी मजदूर थे। यहां ट्रोल प्लाजा के पास एक ट्रक को बैक किया जा रहा था। इसी दौरान हादसा हो गया।
  • उज्जैन में अवैध तरीके से प्रवेश की सूचना पर केस:दूसरे जिले और राज्यों से बगैर अनुमति लिए शहर की सीमा में प्रवेश करने वाले मजदूर पुलिस-प्रशासन के लिएचुनौती बन गए हैं। पिछले दिनों एसपी मनोज कुमार सिंह ने ऐलान किया था किबाहरी व्यक्ति के शहर, ग्राम या कॉलोनी में प्रवेश की सूचना देने वाले को 500 रुपए का इनाम दिया जाएगा। सोमवार को ऐसी सूचना के सही पाए जाने पर पुलिस ने इंदौर की तरफ से बगैर अनुमति शहर में प्रवेश करने वाले चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया।एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने कहते हैं किछिपते-छिपाते आने वाले इन मजदूरों में से यदि किसी एक में भी कोरोना संक्रमण हुआ तो वे जहां-जहां से गुजरेंगे वो जगह संक्रमित कर देंगे।
  • उज्जैन मेंसर्वे के दौरान महिला से मारपीट :कोराना संक्रमण के सर्वे कार्य में लगी आशा कार्यकर्ता द्वारा पूछताछ करने पर गांव के दो लोगों ने गाली-गलौज कर मारपीट कर दी। पुलिस ने बताया कि मताना गांव की आशा कार्यकर्ता गांव के श्याम लाल के घर सर्वे के लिए गई थी। उन्होंने घर में कोई बाहर से आए व्यक्ति के संबंध में जानकारी की तो आरोपी भड़क गए। पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली।
  • भोपाल में लॉकडाउन से नुकसान के कारण कैटरिंग संचालक ने फांसी लगाई:लाॅकडाउन के कारण हुए नुकसान से परेशान एक कैटरिंग संचालक ने फांसी लगाकर जान दे दी। सोमवार को उसने पहले पत्नी को मायके छोड़ा और घर आकर फंदे पर झूल गया। पुलिस को पांच-छह लाइन का सुसाइड नोट मिला है। इसमें कुछ अच्छे दोस्तों का नाम लिखते हुए उसने एक कंपनी में पैसे लगाने का जिक्र किया है। युवक की पहचानबीडीए कॉलोनी, अवधपुरी निवासी 28 वर्षीय विश्वनाथ राय के रूप में की गई।
  • सागर के बंडा में जैन मुनि के स्वागत में उमड़ी भीड़: यहां जैन मुनि के दर्शनों के लिए हजारों लोग सड़कों पर उतर आए। लापरवाही सामने आने पर एएसपी सागर प्रवीण भूरिया ने कहा कि जांच के निर्देश दिए हैं। नियमों के उल्लंघन पर कार्यक्रम के आयोजकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन ने विहार करने से पहले समाज के लोगों से लिखवाया था कि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा।
  • मुख्यमंत्री ने राज्यपाल से मुलाकात की: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्यपाल से मुलाकात की। इसके बाद मंत्रालय के लिए रवाना हुए। उन्होंने राज्यपाल लालजी टंडन से प्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर चर्चा की।

तस्वीर गुना की है। प्रवासी मजदूर जान जोखिम में डालकर ट्रक के ऊपर बैठकर सफर कर रहे हैं।

अब तक 4046 संक्रमित

इंदौर 2016, भोपाल 864, उज्जैन 264, जबलपुर 137, खरगोन 92, धार 86, रायसेन 65, खंडवा 79, बुरहानपुर 60, मंदसौर 54, देवास 53, होशंगाबाद 37, नीमच 34, बड़वानी 26, ग्वालियर 29, रतलाम 24, मुरैना 25, आगरमालवा और विदिशा में 13-13, सागर 10, शाजापुर 8, छिंदवाड़ा 5, भिंड 8, श्योपुर 4, अलीराजपुर, अनूपपुर, हरदा, शहडोल, शिवपुरी, टीकमगढ़, सतना और रीवा में 3-3, झाबुआ, सीहोर, डिंडोरी और अशोकनगर में 2-2, बैतूल, गुना, सीधी, पन्ना, मंडला और सिवनी में एक-एक संक्रमित मरीज मिला।

  • कुल 226 मौतें: इंदौर 92, उज्जैन 45, भोपाल 35, खरगोन 8, देवास, खंडवा और जबलपुर में 7-7, बुरहानपुर 5, मंदसौर 4, रायसेन और होशंगाबाद में 3-3, अशोकनगर और धार में 2-2, आगरमालवा, छिंदवाड़ा, शाजापुर, सागर और सीहोर में एक-एक की जान गई।
  • स्वस्थ हुए 1935 : इंदौर 926, भोपाल 535, उज्जैन 106, खरगोन 52, धार 41, जबलपुर 42, खंडवा 34, रायसेन 34, होशंगाबाद 30, बड़वानी 25, देवास 14, विदिशा और मुरैना में 13-13, रतलाम 12, आगरमालवा 10, मंदसौर 7, शाजापुर 6, सागर 5, ग्वालियर और श्योपुर में 4-4, अलीराजपुर, शहडोल 3-3, छिंदवाड़ा, शिवपुरी और टीकमगढ़ में 2-2, डिंडोरी और बैतूल में एक-एक मरीज स्वस्थ्य हुआ। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 12 मई को जारी बुलेटिन के अनुसार)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *