छत्तीसगढ़ : स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिए 3 कंपनियों से एम.ओ.यू.

Spread the love

रायपुर। छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी और मेडिकल स्टॉफ की दक्षता बढ़ाने स्वास्थ्य विभाग ने निजी क्षेत्र की 3 कंपनियों नोआर्टिस हेल्थकेयर, एक्सटेंशन फॉर कम्युनिटी हेल्थकेयर आउटकम्स इंडिया (ECHO – Extension for Community Healthcare Outcomes India) तथा नवा रायपुर के वेदांता मेडिकल रिसर्च फाउंडेशन के साथ गैर-वित्तीय एम.ओ.यू. किया है। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव की मौजूदगी में आज मंत्रालय (महानदी भवन) में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की प्रबंध संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला और तीनों कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारियों ने एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किए। इस मौके पर बिलासपुर के विधायक श्री शैलेष पाण्डेय, स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह और संचालक, स्वास्थ्य सेवाएं श्री नीरज बंसोड़ भी मौजूद थे।

कार्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत ये तीनों कंपनियां छत्तीसगढ़ में गैर-संचारी रोगों की पहचान व जांच तथा शासकीय अस्पतालों में मेडिकल स्टॉफ की दक्षता और योग्यता बढ़ाने का काम करेंगी। इससे स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के साथ ही लोगों को गुणवत्तापूर्ण जांच और इलाज की सुविधा मिलेगी।

एम.ओ.यू. के अंतर्गत नोआर्टिस हेल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड, मुंबई द्वारा प्रदेश के 8 जिलों दुर्ग, बिलासपुर, कोरबा, रायपुर, बेमेतरा, कबीरधाम, बालोद और जांजगीर-चांपा में गैर-संचारी रोगों जैसे मधुमेह, उच्च रक्तचाप, कैंसर, पक्षाघात और तंबाकू सेवन से होने वाली बीमारियों की पहचान व जांच के लिए कैंप आयोजित किए जाएंगे। इन कैंपों में इम्युनोग्लोबिन, लिपिड प्रोफाइल एवं ईसीजी के साथ ही अन्य जांच सुविधाएं भी रहेंगी। नोआर्टिस हेल्थकेयर ऑनलाइन और ऑफलाइन पाठ्क्रमों के जरिए शासकीय अस्पतालों के मेडिकल स्टॉफ के क्षमता विकास का काम भी करेगी।

एक्सटेंशन फॉर कम्युनिटी हेल्थकेयर आउटकम्स इंडिया टेलीमेंटोरिंग एवं टेली कंसल्टेंसी के माध्यम से दूरस्थ अंचलों में काम कर रहे मेडिकल कार्मिकों को प्रशिक्षण मुहैया कराएगी। शासकीय स्वास्थ्य केन्द्रों में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग द्वारा मेडिकल स्टॉफ की कार्यकुशलता बढ़ाने प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किए जाएंगे। एम.ओ.यू. के तहत विषय विशेषज्ञ अपने अनुभव साझा कर प्रदेश के सुदूर अंचलों और अंतिम छोर में कार्यरत मेडिकल स्टॉफ को प्रशिक्षण देंगे। वहीं नवा रायपुर स्थित वेदांता मेडिकल रिसर्च फाउंडेशन, बालको मेडिकल सेंटर राज्य में कैंसर मरीजों की जांच और उपचार में राज्य शासन की सहायता करेगी। कैंसर पीड़ितों की पहचान व इससे संबंधित डॉटा संकलन में भी फाउंडेशन मदद मुहैया कराएगा।

रायपुर के नागरिकों को सेहतमंद बनाने शहर के दो शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों हीरापुर और गुढ़ियारी में जुंबा की निःशुल्क कक्षाएं संचालित की जाएंगी। एम (AIM) डांस अकादमी के सहयोग से वहां ये कक्षाएं लगेंगी। मंत्रालय में एम.ओ.यू. के दौरान नोआर्टिस हेल्थकेयर के डॉ. चक्रपाणि, ईको इंडिया के डॉ. सुनील आनंद, वेदांता मेडिकल रिसर्च फाउंडेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री वेंकट कुमार और डॉ. जॉयसी शर्मा सहित स्वास्थ्य विभाग और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *