रादुविवि: अतिथि शिक्षक मोहम्मद जावेद आधे महीने गायब, फिर भी भुगतान किया पूरा मानदेय

Spread the love

जबलपुर। रानी दुर्गावाती विश्वविद्यालय के पत्रकारिता विभाग के विद्यार्थियों का आरोप है कि विभाग के अतिथि शिक्षक मोहम्मद जावेद महीने में 15 दिन गायब रहते है और जब आते भी है तो अपनी हाजिरी लगाकर नदारद हो जाते हैं। विद्यार्थियों का आरोप है कि विश्वविद्यालय प्रशासन यह जानते हुए भी अनुशासनात्मक कार्रवाई करने से कतरा रहा है। विभाग में रखे उपस्थिति रजिस्टर की फोटो उपलब्ध कराते हुए  विद्यार्थियों नेे बताया कि अतिथि विद्वान मोहम्मद जावेद अक्टूबर-नवंबर महीने में 14 दिन गायब रहे, फिर भी विश्वविद्यालय ने इनका पूरे माह का वेतन भुगतान कर दिया।

स्ववित्तीय पाठ्क्रमों के अतिथि शिक्षकों को सामान्य मद से वेतन भुगतान

हाल ही में रानी दुर्गावाती विश्वविद्यालय में हो रही वित्तीय अनियमितताओं की शिकायत महालेखाकार कार्यालय ग्वालियर एवं वित्त विभाग में की गई है, जिसमे बताया गया है कि पत्रकारिता विभाग में संचालित तीन कोर्स बीए (जनसंचार), एमए (जनसंचार) एवं एमजेसी स्ववित्तीय पाठ्यक्रमों (सेल्फ फायनेंसिंग) है । नियमतः इन पाठ्यक्रमों में पढ़ा रहे अतिथि विद्वानों के वेतन का भुगतान स्ववित्तीय कोष से होना था, लेकिन विश्वविद्यालय के सामान्य मद से भुगतान किया जा रहा है।

एमएचआरडी  एवं यूजीसी को साहित्यिक चोरी की शिकायत

रादुविवि के दो शोध छात्रों पर साहित्यिक चोरी के आरोप लगे हैं। इनके खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर बुधवार को शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने वाली भोपाल की एक सामाजिक संस्था ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय को शिकायत सौंपी है। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से ज्ञात हुआ है कि यूनिवर्सिटी के समाजकार्य एवं पत्रकारिता विभाग के दो शोधार्थियों पर संस्था ने साहित्यिक चोरी के आरोप लगाए हैं। आरोपों में कहा गया है कि साहित्यिक चोरों के विरुद्ध यूनिवर्सिटी प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा ।

रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय में फिर सामने आई मूल्यांकन में गड़बड़ी, सैकड़ा भर छात्राएं हुई फेल

डिप्टी रजिस्ट्रार दीपेश मिश्रा परीक्षाओं में करते हैं धांधली: ईसी मेंबर का आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *