अपोलो हॉस्पिटल मे बिना ओपन हार्ट सर्जरी के बदला गया दिल का वाल

Spread the love

लखनऊ से मुख्य छायाकार पंकज जोशी के साथ वरिष्ठ संवाददाता अभिनव शर्मा की रिपोर्ट

अपोलो हॉस्पिटल लखनऊ के सी टी वी एस (हार्ट सर्जरी) विभाग के सीनियर सर्जन हार्ट डॉ विजयंत देवनराज ने 72 वर्षीय महिला रंजना मौर्या का बिना हार्ट सर्जरी किए बदला दिल का वॉल सीनियर हार्ट सर्जन डॉ विजयंत देवनराज ने बताया पेशेंट रंजना मौर्या के हृदय के वोल्वो में सिकुड़न थी। जिसको बदलना ही एकमात्र विकल्प था। लेकिन अधिक आयु होने व कई बीमारी होने के कारण ओपन हार्ट सर्जरी करने मे अधिक खतरा था। ऐसी स्थिति में हार्ट सर्जरी विभाग के डॉक्टरों ने अत्याधुनिक टावी (ट्रांसकैथेटर एओर्टिक वाल्व इंप्लांटेशन) तकनीकी द्वारा पैरों की नसों से होते हुए, बिना कोई चीरा लगाए। दिल का वाल्व बदल दिया। यह प्रक्रिया काफी जटिल थी। लेकिन सर्जरी के पश्चात रोगी स्वस्थ है, डिस्चार्ज होकर अपने घर जा चुका है। अपोलोमेडिक्स हॉस्पिटल के एम डी डॉक्टर मयंक सोमानी ने कहा उत्तर प्रदेश में चिकित्सा के क्षेत्र में अपोलो मेडिक्स हॉस्पिटल लखनऊ प्रतिदिन नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। सभी लोगों को विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराकर उनके उपचार के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं। मैं डॉक्टर विजयंत देवनराज व उनकी टीम को बधाई देता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *