ध्वस्त हुआ बाहुबली का साम्राज्य

Spread the love

लखनऊ से वरिष्ठ संवाददाता अभिनव शर्मा

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के लखनऊ डाली बाग स्थित टावरों को एलडीए ने किया ध्वस्त

लखनऊ के डाली बाग कालोनी में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के अवैध कब्जे वाली बिल्डिंग को एलडीए, प्रशासन और पुलिस के दस्ते ने गुरुवार को ध्वस्त कर दिया। ये बिल्डिंग उनके बेटों के नाम दर्ज है। एलडीए ने ये आदेश 11 अगस्त को किया था।  विधायक मुख्तार अंसारी के अवैध कब्जे को खाली कराने के लिए गुरुवार को पुलिस और प्रशासन की टीम डालीबाग स्थित अवैध कब्जे पर भारी फोर्स और कई जेसीबी के साथ पहुंची। गेट का ताला तोड़कर और वहां बने निर्माण से सामान निकाल कर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। एलडीए की टीम भी मौके पर मौजूद है।  माफिया की बेनामी संपत्तियों की जांच में जुटे अफसरों ने मुख्तार अंसारी के परिवारजनों को रडार पर लिया है। हजरतगंज व उससे जुड़े इलाकों की 19 संपत्तियों को खंगाला जा रहा है। इसमें बारह संपत्तियां हजरतगंज-रामतीर्थ वार्ड और नौ संपत्तियां राजा राममोहन राय वार्ड में हैं। इसके लिए एलडीए और पुलिस प्रशासन समेत 250 से अधिक पुलिसकर्मी और 20 से अधिक जेसीबी लगी रहीं। मौके पर मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास व उमर अंसारी के टावर पर झड़प भी हो गई। एलडीए ने सुबह सवेरे बुलडोजर चलवाकर इमारत को ध्वस्त किया। मालूम हो कि दोनों पर शत्रु संपत्ति पर कब्जा कर दो मंजिला इमारत बना ली थी। एलडीए संयुक्त सचिव ऋतु सुहास ने 11 अगस्त को शस्त्रीकरण आदेश जारी किया था। पहले ये निर्माण राबिया अंसारी के नाम था। बाद में ये मुख्तार के बेटे अब्बास अंसारी और उमर अंसारी के नाम हुआ। एलडीए की संयुक्त सचिव ऋतु सुहास ने बताया कि नगर विकास अधिनियम की धारा 27 के तहत कार्रवाई की गई है।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने ट्वीट करके कहा कि माफिया मुख्तार अंसारी की ध्वस्त इमारत में जो भी प्रशासन का खर्चा आया है ।उन्हीं से वसूला जाएगा । माफिया सुधर जाए ,नही तो ऐसे कडे़ फैसले को तैयार रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *