लखीमपुर खीरी से विकास दुबे की तलाश

Spread the love

लखीमपुर खीरी से ब्यूरो चीफ गौरव गुप्ता की रिपोर्ट

अपराध की दुनिया का बेताज बादशाह विकाश दुबे आठ जाबाज पुलिस कर्मियों को मौत की नींद सुलाने वाला हत्यारा पुलिस की पकड़ से दूर है। 2 दिन पहले ही खुफिया तंत्रों के हवाले पुलिस को इनपुट मिला की लखीमपुर खीरी की मोहम्मदी कोर्ट में भेष बदल कर विकास दुबे खुद सरेंडर करेगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं, कयास लगाया जा रहा है कि ढाई लाख रुपये का इनामी कानपुर से फरार विकास दुबे लखीमपुर के रास्ते नेपाल भागने की फिराक में है, जिसके बाद विकास दुबे की तलाश में इंडोनेपाल की 130 किलोमीर सीमा पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया हैं, साथ ही विकाश दुबे के पोस्टर भी दीवारों पर चस्पा कराए जा रहे हैं, इंडोनेपाल कि खुली सीमाओं पर पुलिस का सघन चेकिंग अभियान भी चलाया जा रहा हैं, हर आने जाने वालों पर पुलिस अपनी पैनी नजर बनाए हुए है, इतना ही नही उत्तर प्रदेश जिले में बड़ी बड़ी घटनाओं को अंजाम देने के बाद अपराधी लखीमपुर खीरी से सटे इंडोनेपाल बॉर्डर से खुली सीमाओं में प्रवेश कर नेपाल को अपने छुपने का अड्डा बनाते है, 
हाल ही में अक्टूबर  2019  में हुए बहुचर्चित कमलेश तिवारी हत्या कांड के मुख्य आरोपी कमलेश तिवारी की हत्या कर लखीमपुर के  पलिया के रास्ते नेपाल जाने की फिराक में थे लेकिन चाक चौबंद सुरक्षा के कारण नेपाल भागने में नाकाम हुए, इसी के साथ कुख्यात अपराधी विकास दुबे की धर – पकड़ के लिए पुलिस के चार थानों की पुलिस के साथ एस. एस. बी. के जवानों को भी तैनात कर दिया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *