अमेठी में हार के डर से वायनाड से चुनाव लड़ रहे हैं राहुल गांधी : योगी आदित्यनाथ

बुलन्दशहर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी में हार के डर की वजह से वायनाड (केरल) से भी चुनाव लड़ रहे हैं. वहां पर कांग्रेस ने उस मुस्लिम लीग के संग गठजोड़ किया है, जो आजादी के बाद देश विभाजन का कारण बनी.

योगी आदित्यनाथ बुलन्दशहर के भाजपा प्रत्याशी डॉ. भोला सिंह के समर्थन में अहमदगढ़ क्षेत्र में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. कांग्रेस के घोषणा पत्र पर टिप्पणी करते हुए योगी ने कहा कि घोषणा पत्र में देशद्रोह के कानून को समाप्त किए जाने से देश में आतंकवाद, अलगाववाद व नक्सलवाद को बढ़ावा मिलेगा.

कांग्रेस के घोषणा पत्र में सेना के जवानों को विशेषाधिकार खत्म करने पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के घोषणा पत्र से देश की सेना का मनोबल घटेगा.

उन्होंने कहा कि सभी विपक्षी दल मोदी को रोकने की साजिश रच रहे हैं, लेकिन जनता उन्हें बेनकाब करते हुए नरेन्द्र मोदी को फिर से प्रधानमन्त्री बनायेगी.

इससे पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के वायनाड के लिये नामांकन से पहले उन पर निशाना साधा था. स्मृति ईरानी गुरुवार को अमेठी में कहा कि अमेठी के लोगों के समर्थन से 15 साल तक सत्ता का सुख भोगने वाले राहुल गांधी कहीं और से नामांकन कर रहे हैं. यह अमेठी के लोगों का अपमान है.

ईरानी ने कहा कि अमेठी के लोग इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि चुनावी ‘रीजन’ और ‘सीजन’ देख जनेऊ धारण करने वाले राहुल गांधी देश के टुकड़े करने वाले गैंग के साथ अपनी जीत सुनिश्चित करना चाहते हैं.